बाड़मेर : रिफाइनरी के बाहर रात में धरना, स्थानीय लोगों ने मांगी रोजगार में प्राथमिकता

- स्थानीय लोगों की अनदेखी करने का आरोप
- मौके पर भारी पुलिस जाब्ता तैनात
- उपखंड अधिकारी, डीएसपी व तहसीलदार पहुंचे मौके पर
- स्थानीय ठेकेदार आज रिफाइनरी में काम रखेंगे बंद

By: Mahendra Trivedi

Published: 11 Oct 2021, 09:26 PM IST

बाड़मेर. सांभरा गांव में रिफाइनरी में सोमवार शाम को स्थानीय लोगों को रोजगार में प्राथमिकता देने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया। सूचना पर पचपदरा पुलिस व बालोतरा उपाधीक्षक मौके पर पहुंचे तथा लोगों से समझाइश के प्रयास किए। लेकिन कोई बात नहीं बनी तो देर रात बालोतरा उपखंड अधिकारी व पचपदरा तहसीलदार भी मौके पर पहुंचे।उन्होंंने कम्पनी अधिकारियों से बातचीत करने का आश्वासन दिया, जिस पर सहमति नहीं बन पाई। मौके पर देर रात तक लोगों का धरना जारी रहा।
पचपदरा के सांभरा गांव में निर्माणाधीन रिफाइनरी में सोमवार शाम को स्थानीय लोगों ने स्थानीय लोगों को रोजगार देने, वाहनों का उचित किराया देने, स्थानीय श्रमिकों का शोषण नहीं करने समेत विभिन्न मांगों को लेकर कई कम्पनियों का काम रुकवा दिया। साथ ही घोषणा की कि मंगलवार से स्थानीय ठेकेदार रिफाइनरी में कार्य बंद रखेंगे।
अधिकारी करते रहे समझाइश के प्रयास
पचपदरा थानाधिकारी प्रदीप डांगा मौके पर पहुंचे तथा विरोध जता रहे लोगों से समझाइश की, लेकिन नहीं माने। बालोतरा पुलिस उपाधीक्षक धनफूल मीणा भी आए। प्रतिनिधि मंडल से वार्ता कर ओवरलोड व नियम विरुद्ध संचालित वाहनों के खिलाफ उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। देर रात को बालोतरा उपखंड अधिकारी नरेश सोनी, पचपदरा तहसीलदार प्रवीण रतनू भी पहुंचे। समझाइश के प्रयास से भी लोग संतुष्ट नहीं हुए। देर रात तक मौके पर दिए धरने पर सैकड़ों लोग मौजूद थे।
मौके पर भारी पुलिस जाब्ता तैनात
रिफाइनरी के बाहर स्थानीय लोगों की ओर से विरोध प्रदर्शन करने की जानकारी पर मौके पर बालोतरा समेत कई थानों का पुलिस जाब्ता तैनात किया गया। बड़ी संख्या में यहां पर देर रात पुलिस की तैनात की गई।

Mahendra Trivedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned