पर्यावरण बचाने के लिए रन फोर वन में दौड़ा बाड़मेर

-बाड़मेर जिला मुख्यालय पर जगाई पर्यावरण जागरूकता की अलख

By: Mahendra Trivedi

Published: 07 Jul 2019, 08:53 PM IST

बाड़मेर। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में बाड़मेर जिला मुख्यालय पर आमजन में पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूकता के लिए रविवार को रन फोर वन का आयोजन हुआ। कार्यक्रम में शामिल प्रतिभागियों ने पर्यावरण बचाने तथा अधिकाधिक पौधे लगाने का संदेश दिया।

इंदिरा गांधी सर्कल से अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश संख्या-1 सुशील कुमार जैन एवं मोटर दुर्घटना एवं दावा अधिकरण न्यायाधीश सुनील रणवाह ने दौड़ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इसका समापन टाउन हाल के पास हुआ। राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार आयोजित रन फोर वन में विशेष न्यायाधीश अजा जजा वमितासिंह, सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट सिद्धार्थ शंकर शर्मा, ग्राम न्यायालय की न्यायाधिकारी सोनल पुरोहित, न्यायिक मजिस्ट्रेट राजेन्द्रसिंह चारण, उपखंड अधिकारी नीरज मिश्र, पुलिस उप अधीक्षक विजयसिंह, आयुक्त पवन मीणा, विकास अधिकारी कैलाश चौधरी, बार एसोशिएशन के अध्यक्ष रूपसिंह राठौड़, वरिष्ठ अधिवक्ता करनाराम चौधरी, सीमा सुरक्षा बल के अधिकारी व जवान, जिला एवं पुलिस प्रशासन के अधिकारी तथा कर्मचारी, एनसीसी कैडेट, स्काउट, नगर परिषद तथा वन विभाग के कार्मिक, विभिन्न विद्यालयों के विद्यार्थी तथा सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि व आमजन शामिल हुआ। संचालन जसवंतसिंह मायला ने किया।
प्रमाण पत्र व पौधों का वितरण
भगवान महावीर टाउन हाल के पास आयोजित समारोह में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से न्यायिक अधिकारियों ने दौड़ में शामिल हुए प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र एवं पौधे वितरित किए। उन्होंने प्रतिभागियों को पौधों को गोद लेकर वृक्ष के रूप में तब्दील होने तक देखभाल करने का संकल्प दिलाया। इससे पहले इंदिरा गांधी सर्कल के पास कार्यक्रम की शुरूआत में अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश संख्या-1 सुशील कुमार जैन ने कहा कि मौजूदा समय में दिनों दिन बढ़ रहे प्रदूषण से पर्यावरण का संतुलन बिगड़ रहा है। इसके कई दुष्परिणाम सामने आ रहे हैं। उन्होंने आमजन को एक मिनख एक पेड़ का संदेश देते हुए एक पौधा लगाने एवं एक पौधा गोद लेकर पर्यावरण संरक्षण में सक्रिय भागीदारी की अपील की। जैन ने कहा कि आगामी 13 जुलाई को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन होगा। इसमें आमजन आपसी रजामंदी से वर्षों से लंबित प्रकरणों का निस्तारण करवा सकते हैं। इधर, सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट सिद्धार्थ शंकर शर्मा ने बताया कि रन फोर वन के लिए 1800 लोगों ने पंजीयन कराया। इसके अलावा भी कई लोगों ने इसमें शामिल होकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया।

Mahendra Trivedi Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned