scriptbarmeri hastshilp art | बाड़मेर की महिला दस्तकारों की कला जयपुर में बिखेर रही जलवे | Patrika News

बाड़मेर की महिला दस्तकारों की कला जयपुर में बिखेर रही जलवे

-बाड़मेर की तीस महिला दस्तकार हस्तशिल्प प्रदर्शनी में ले रही भाग
-जवाहर कला केंद्र में तीन दिवसीय प्रदर्शनी शुरू

बाड़मेर

Published: October 08, 2021 08:17:28 pm

बाड़मेर. थार की हस्तकला गुलाबी नगरी को आकर्षित कर रही है। दस्तकारों की ओर से बनाए गए उत्पाद जयपुरवासियों सहित आगंतुकों को लुभा रहे हैं। जवाहर कला केंद्र में लगी स्वयंसिद्धा हस्तशिल्प प्रदर्शनी में बाड़मेर की अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्पी, फैशन डिजाइनर व ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान अध्यक्ष डॉ. रूमा देवी के नेतृत्व में संस्थान की महिला हस्तशिल्पी उत्पादों का प्रदर्शन कर रही है। प्रदर्शनी की शुरुआत शुक्रवार को मुख्य अतिथि राज्यपाल कलराज मिश्र, विशिष्ट अतिथि डॉ. रूमा देवी, सांसद जसकौर मीणा व सुमेधानंद सरस्वती ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया।
प्रदर्शनी में इनकी है भागीदारी
तीन दिवसीय प्रदर्शनी में बाड़मेर जिले के धनाऊ क्षेत्र से सुगड़ी देवी व हेमलता, मंगले की बेरी से निर्मला व हीरो देवी, लीलसर से हेमी, लेहरो व भंवरी देवी, भूकरासर से पेमी,रेवती व धापू देवी, रामसर का कुआं से कमला व राजो देवी, जाखड़ों की ढाणी से अणसी, गुड्डी, वरजू, लक्ष्मी, पेम्पो व धर्मी देवी, सनावड़ा से मूली, हेमी, खेमी देवी, महाबार से ललिता व हरखु देवी, मेहलु से सुगणी, रामनगर से धनेश्वरी, कर्मचारी कॉलोनी से दमयंती, गांधीनगर से कमला, अंबेडकर कॉलोनी से लेहरो देवी, इशरोल से कमला देवी प्रदर्शनी में अपने उत्पादों को प्रदर्शित करते हुए भागीदारी निभा रही है। यहां पर विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रमों के माध्यम से प्रशिक्षण प्राप्त कर चुकी अलग-अलग गांवों की महिला दस्तकार जयपुर में लघु उद्योग भारती के महिला संघ द्वारा आयोजित तीन दिवसीय स्वंयसिद्धा हस्तशिल्प प्रदर्शनी के अंतगज़्त अपने कौशल का प्रदर्शन जवाहर कला केंद्र में कर रही है।
प्रदर्शनी में बाड़मेर की 29 स्टॉल
इस अवसर पर डॉ. रूमा देवी ने कहा कि यहां 29 स्टॉल बाड़मेर की होने से राजधानी में लघु बाड़मेर का नजारा दिख रहा है। कोविड काल के कारण पिछले दो वर्षों से महिला दस्तकार अपने उत्पादों को बाजार में प्रदर्शित नहीं कर पा रही थी। वहीं प्रशिक्षण प्राप्त नए आर्टिजन मार्केटिंग से जुड़ नहीं पाए। उन्हें प्रदर्शनी में अपने उत्पाद को बाजार में बिक्री करने के लिए मार्केटिंग गुर सिखाए जाएंगे। जिससे दस्तकार महिलाओं की क्षमता विकसित होगी।
बाड़मेर की महिला दस्तकारों की कला जयपुर में बिखेर रही जलवे
बाड़मेर की महिला दस्तकारों की कला जयपुर में बिखेर रही जलवे

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.