बाड़मेर.लॉकडाउन ०४ के बीच प्रदेश सरकार के खिलाफ भाजपा सडक़ों पर उतर गई है। बिजली बिल जारी होते ही भाजपा नेताओं ने सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाते हुए इसे मध्यम वर्ग के साथ धोखा बताया। वहीं, मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप बिल माफ करने की मांग की।
गिड़ा में भाजपा ने जिला महामंत्री बालाराम मूढ के नेतृत्व में गिड़ा तहसीलदार शिवजीराम बावरी को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप कर किसानों व आमजन के छह माह के बिजली बिल माफ करने की मांग की। ज्ञापन में बताया कि किसानों की स्थति बहुत ही दयनीय है। इस साल अकाल की मार झेल चुके किसान संभले ही नहीं किकोरोना ने सब को बेरोजगार कर दिया। उधर राज्य सरकार ने पहले तो तीन माह के बिल स्थगित किया फिर अब कैम्प लगा किसानों से एक साथ तीन माह के बिलों का भुगतान करने को कहा जा रहा है जो किसानों व आमजन के लिए कोढ़ में खाज साबित हो रहा है। मूढ़ नेे बताया कि किसानों व आमजन के बिजली बिल राज्य सरकार माफ नहीं करती हैं तो उनके के साथ धोखा होगा। इस अवसर पर गिड़ा भाजपा महामंत्री प्रेमसिंह विदा, परेऊ सरपंच बांकाराम तरड़, सोनाराम जाजवा, नरपतसिंह सिसोदिया गिड़ा, घमण्डाराम सारण शहर, रेखाराम मौजूद रहे।
भाजपा कार्यकर्ताओं ने तहसीलदार गडरारोड को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौप पिछले तीन माह के बिजली बिल माफ करने की मांग की। ज्ञापन में बतााय कि राज्य सरकार ने लॉकडाउन के चलते पहले तो दो माह के लिए बिल स्थगित किए और अब डिस्कॉम ने बिल जारी कर दिए जबकि दो माह से लोगों के पास रोजगार नहीं है। एेसे में बिजली के बिल भरना मध्यम वर्ग के लिए मुश्किल हो रहा है। भाजपा ने राज्य सरकार पर वादा खिलाफी का भी आरोप लगाया। भाजपा नेता स्वरूपसिंह खारा, जिला महामंत्री दशरथ मेघवाल, मंडल अध्यक्ष भारुसिंह, उत्तमाराम खुडानी, महादेव राठी, चुतर सिंह, हितेश राठी मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned