भाजपा ने दिया कांग्रेस पार्षदों के धरने का साथ ? आखिर ऐसा क्यों,जानिए पूरी खबर

- अब भाजपा पार्षदों ने दी धरने की चेतावनी- यूआइटी अध्यक्ष की अगुवाई में भाजपा पार्षद कलक्टर से मिले

By: भवानी सिंह

Updated: 16 May 2018, 11:06 AM IST

बाड़मेर. नगर परिषद सभापति की कार्यशैली को लेकर अंदरूनी तौर पर भाजपा-कांग्रेस में एक बार फिर उथल-पुथल को लेकर चचार्ए जोरों पर हैं। कांग्रेस सहित भाजपा के भी एक-दो पार्षद सभापति के खिलाफ मोर्चा खोलकर धरने पर बैठे हैं। इसी बीच मंगलवार को यूआइटी अध्यक्ष डॉ. प्रियंका चौधरी की अगुवाई में भाजपा पार्षदों ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंप शहर की समस्याएं बताईं तथा 15 दिन का अल्टीमेटम देते हुए धरने पर बैठने की चेतावनी दी। इस घटनाक्रम के बाद यह चर्चा जोरों पर रही कि भाजपा धरने पर बैठे कांग्रेस पार्षदो के समर्थन में आ गई है। वहीं यूआइटी अध्यक्ष ने स्पष्ट कहा कि हमारा कांग्रेस के धरने से कोई मतलब नहीं है। हम शहर के विकास को लेकर जरूर धरना देंगे।

पहले कलक्टर से मिले, फिर सभापति से मंत्रणा

यूआइटी चेयरपर्सन की अगुवाई में भाजपा पार्षद शहर में सीवरेज लाइन, पट्टे जारी नहीं करने, बिजली पानी की एनओसी नहीं देने, बदहाल सफाई व्यवस्था, विकास कार्य नहीं होने, आवारा पशुओं की समस्या, नगर परिषद भूमि से अतिक्रमण हटाने, भ्रष्टाचार पर रोक लगाने, बोर्ड की बैठक समय पर करवाने सहित कई मांगों को लेकर जिला कलक्टर से मिले। उसके बाद सभापति कक्ष पहुंचे। यहां करीब एक घंटे तक बंद कक्ष में मंत्रणा हुई।

अपने ही बोर्ड के खिलाफ हैं पार्षद

नगर परिषद में कांग्रेस का बोर्ड है। बोर्ड गठन के बाद कांग्रेस के ही पार्षद वार्ड की समस्याओं को लेकर सभापति के खिलाफ कई बार मोर्चा खोल चुके हैं। बोर्ड बैठकों में कांग्रेस के पार्षद विपक्ष की भूमिका निभाते नजर आते हैं। वहीं विपक्ष की भूमिका में भाजपा महज पर्दे के पीछे ही रही है।

सातवें दिन धरना जारी

इधर,पार्षदों का धरना मंगलवार को सातवें दिन भी जारी रहा। धरने पर बैठे पार्षदों ने आरोप लगाया कि विपक्ष के पार्षद शहरवासियों के सामने अपनी छवि अच्छी दिखाने के लिए नाटक कर रहे है। धरने पर बैठे पार्षदों ने सवाल किया कि भाजपा जनप्रतिनधियों ने कहा कि धरने से हमारा लेना- देना नहीं है। फिर कलक्टर को दिए ज्ञापन में हमारी ही मांगों को क्यूं दोहराया। धरने पर पार्षद जगदीश खत्री, किशनलाल, अनिल व्यास व सुरतानसिंह आदि बैठे।

भवानी सिंह Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned