50 घंटे बाद मुआवजे की सहमति पर उठाया श्रमिक का शव

50 घंटे बाद मुआवजे की सहमति पर उठाया श्रमिक का शव

Moola Ram Choudhary | Publish: Apr, 17 2019 01:09:48 PM (IST) Barmer, Barmer, Rajasthan, India

- एमपीटी क्षेत्र में पाइप लाइन बिछाने के दौरान दबने से हुई थी श्रमिक की मौत

बाड़मेर. एमपीटी क्षेत्र में निजी कंपनी में कार्यरत मजदूर की मौत के तीसरे दिन मंगलवार को 50 घंटे बाद गतिरोध टूट गया। बातचीत व समझाइश के बाद उचित मुआवजा दिलाने की सहमति पर परिजन शव उठाने के लिए मान गए।

श्रमिक की मौत के बाद अन्य श्रमिकों ने उचित मुआवजा व अन्य सुविधाओं की मांग करते हुए शव उठाने से इनकार कर दिया था।

एमपीटी क्षेत्र में कार्यरत कल्पतरू कंपनी के कार्मिक केथईयां मुजफ्फरपुर बिहार निवासी जितेन्द्र साहनी (36) की पाइप लाइन बिछाने के दौरान दबने से मौत हो गई थी।

पुलिस ने शव को राजकीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवा परिजन की रिपोर्ट के आधार पर कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज किया।

हादसे के तीसरे दिन मंगलवार को कंपनी अधिकारियों व परिजन के बीच समझौता हो गया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा परिजन को सुपुर्द कर दिया।

कंपनी के अधिकारियों व श्रमिकों की वार्ता के दौरान मृतक के परिवार को आर्थिक सहायता व क्लेम मुहैया करवाने पर सहमति बनी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned