Video : क्लब सचिव ने कलक्टर को रखा अंधेरे में, अब संकट में आजाद, पढिए पूरी खबर

- सार्वजनिक सम्पति को नुकसान व धोखाधड़ी का मामला दर्ज, 2014 में आजादसिंह को किया था लीज पर भवन आवंटित

 

By: भवानी सिंह

Published: 17 Jun 2018, 11:40 AM IST

बाड़मेर. राजस्थान क्रिकेट संघ (आरसीए) के नवनियुक्त कोषाध्यक्ष आजादसिंह राठौड़ बडे़ विवाद में घिर गए हैं। जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक के सरकारी आवास के बीच जिला खेल व सांस्कृतिक संस्थान (बाड़मेर क्लब) की बेशकीमती सरकारी जमीन पर मामूली लीज पर चल रहे उनके व्यावसायिक कार्यालय को लेकर कोतवाली थाने में धोखाधड़ी, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और अवैध आवंटन का मामला दर्ज हुआ है। इस मामले में बाड़मेर क्लब के तत्कालीन सचिव को शनिवार सुबह 5 बजे गिरफ्तार कर लिया गया।

 

शहर कोतवाल सुरेन्द्र प्रजापत के अनुसार नवनियुक्त क्लब सचिव ओमप्रकाश जोशी ने इस संबंध में कोतवाली थाने में मामला दर्ज करवाया कि जिला खेल व सांस्कृतिक संस्थान (बाड़मेर क्लब) के तत्कालीन सचिव राजूसिंह ने 24 अप्रेल 2012 को अपना कार्यकाल समाप्त होने के बावजूद पद पर रहते हुए संस्थान अध्यक्ष (जिला कलक्टर) को अंधेरे में रखा तथा आजादसिंह को 22 मई 2014 को जरिए लीज डीड वाणिज्यिक एवं राजनीतिक गतिविधियों के लिए सरकारी भवन का आवंटन कर दिया। आरोपी आजादसिंह को पता होने पर भी उन्होंने जमीन को लीज पर लिया। जिसके लिए सचिव अधिकृत नहीं था। इससे सरकारी सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान पहुंचा। पुलिस ने तत्कालीन सचिव राजूसिंह, आजादसिंह राठौड़, तत्कालीन उप रजिस्ट्रार सहित क्लब के अन्य सदस्यों के खिलाफ धोखाधड़ी व सार्वजनिक सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज कर जांच शुरू की। पुलिस ने मामले में मुख्य आरोपी सचिव राजूसिंह को गिरफ्तार कर पूछताछ के बाद न्यायालय में पेश किया गया। जहां से न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया। पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है।

 

एक हजार रुपए खर्च करने का ही अधिकारी
वर्ष 2009 में तत्कालीन जिला कलक्टर रवि जैन ने कमेटी का गठन कर सचिव राजूसिंह को नियुक्त किया था। उसका तीन साल का कार्यकाल 2012 में समाप्त हो गया। इसके बाद सचिव को स्वत: हट जाना था, लेकिन वह लाभ के पद पर विधान के खिलाफ काबिज रहा। जिसकी भनक अध्यक्ष व कोषाध्यक्ष तक को लगने नहीं दी। सचिव के पास एक हजार रुपए खर्च करने का अधिकार था, लेकिन सरकारी धन का दुरुपयोग किया। सचिव पर 2 लाख 50 हजार रुपए गबन करने का आरोप है।

 

समारोह पर भी विवाद
आरसीए कोषाध्यक्ष बनने के बाद आजादसिंह के 14 जून को बाड़मेर आने पर अभिनंदन समारोह बाड़मेर क्लब में रखा गया था। इसकी शिकायत होने पर यहां से टेंट हटाए गए और कलक्टर ने बिना अनुमति आयोजन को लेकर एेतराज किया था। इसके बाद इस मामले में कार्रवाई शुरू हुई। हालांकि इससे पूर्व में भी शिकायतें हुई हैं और जांच में संबंधित को दोषी माना गया है।

 

कलक्टर अध्यक्ष पर अनभिज्ञ
क्लब के पदेन अध्यक्ष जिला कलक्टर व उपाध्यक्ष पुलिस अधीक्षक हैं। सचिव व अन्य सदस्यों का निर्वाचन जिला कलक्टर करते हैं। अन्य सदस्यों को हटाने का वीटो कलक्टर के पास है। एफआईआर के मुताबिक सचिव ने स्वयं को अध्यक्ष बता अपनी अध्यक्षता में संस्था की बैठकों का आयोजन किया। जिला कलक्टर को अंधेरे में रखा गया।

 

जिम की भी होगी जांच
कोतवाल ने बताया कि क्लब की जमीन पर पूर्व में जिम का संचालन अवैध तरीके से हुआ है। पुलिस उस मामले की भी जांच करेगी।

भवानी सिंह
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned