नकदी की किल्लत, कभी यूपीएस खराब, सर्वर डाउन से खाली हाथ उपभोक्ता

https://www.patrika.com/barmer-news/

By: Mahendra Trivedi

Published: 18 Dec 2018, 07:20 PM IST

नकदी की किल्लत, कभी यूपीएस खराब, सर्वर डाउन से खाली हाथ उपभोक्ता
सीमावर्ती एकमात्र एटीएम रहता है खराब
ग्रामीणों के साथ सेना व बीएसएफ के जवान होते हैं परेशान

गडरारोड . कस्बे के भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) शाखा में तकनीकी खराबी तथा अव्यवस्थाओं के चलते उपभोक्ताओं को आए दिन परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लेन-देन तथा अन्य कार्यों को लेकर ग्रामीण रोजाना बैंक पहुंचते हैं, लेकिन उन्हें निराश लौटना पड़ रहा है। उनका कहना है कि कभी कैश की किल्लत तो कभी यूपीएस खराब वहीं कई बार सर्वर डाउन रहने से लोगों का काम नहीं हो पाता।
दूर-दूर से पहुंचते हैं ग्रामीण व जवान
सीमावर्ती लम्बे क्षेत्र में दूसरा बैंक नहीं होने से अधिकांश ग्रामीणों तथा सेना व बीएसएफ जवानों के खाते यहीं हैं। ऐसे में उनका काम एक दिन में नहीं हो पाने के कारण अगले दिन वापस आ पाना मुश्किल हो जाता है। सीमा सुरक्षा बल व सेना के जवान भी खरीदारी के लिए पहुंचते हैं, लेकिन उन्हे कैश नहीं मिलने से दिन बेकार चला जाता है।
अकसर खराब रहता है एटीएम
इसके अलावा पूरे सीमावर्ती क्षेत्र में एकमात्र एसबीआई का ही एटीएम लगा है। यह माह में अधिकांश खराब ही रहता है। इसका संचालन करने वाली कम्पनी का कार्यालय जिला स्तर पर भी नहीं है। ऐसे में उपभोक्ता इसकी शिकायत भी नहीं कर पा रहे हैं।
तकनीकी खराबी सुधार रहे
&मैंने अभी इस शाखा को ज्वॉइन किया है। अभी मेरे हस्ताक्षर मैप हुए नहीं हैं, इस कारण समस्या आ रही है। एटीएम से बैंक का कोई लेना-देना नहीं है। यूपीएस व अन्य तकनीकी समस्या सुधारने मैकेनिक पहुंच रहे हैं।
- मृत्युंजय मनीष, शाखा प्रबंधक, एसबीआई शाखा गडरारोड

Mahendra Trivedi Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned