दोनों आंखों में झौंकी धूल, अब बॉर्डर पर तीसरी आंख का भी पहरा, जानिए पूरी खबर

- बाखासर से सुंदरा तक लगेंगे हाई क्वालिटी के सीसीटीवी कैमरे,लगातार हो रहे मामलों के बाद हुआ निर्णय

By: भवानी सिंह

Published: 13 Apr 2021, 09:31 PM IST

भवानीसिंह राठौड़@बाड़मेर.
पश्चिमी सरहद पर पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के नेटवर्क को सक्रिय होने के बाद भारतीय सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई है। बाड़मेर से जुड़ी पश्चिमी सीमा पर तीन माह पहले एक युवक के भारत से पाकिस्तान तारबंदी फांदकर भाग गया तो दूसरी तरफ तस्करी के लिए नकली नोट व हेरोइन की खेप भारत पहुंच गया। लगातार हुई घटनाओं ने बॉर्डर पर भारतीय सुरक्षा में लगी दोनों आंखों में धूल झौंकने का काम किया। ऐसी स्थिति में अब पश्चिमी सरहद पर तीसरी आंख का पहरा रहेगा।


भारत-पाक बंटवारा 1947 को हुआ। तारबंदी वर्ष 1992 में की गई। यहां बीएसएफ की बटालियन 24 घण्टें सुरक्षा में तैनात है। इसके बावजूद पाकिस्तानी आईएसआई एजेंसी घुसपैठ को लेकर तमाम कोशिशों में जुटी रहती है। कभी तस्करों को तारबंदी पार करवाना तो कभी घुसपैठिए को भेज देना। ऐसी स्थिति को देखते हुए अब पश्चिमी सीमा की बाखासर से सुंदरा तक हाई क्वालिटी के सीसीटीवी कैमरे लगेंगे। इसके लिए सरकार ने बीएसएफ के प्रोजेक्ट पर स्वीकृति जारी कर दी है। अब जल्द पश्चिमी सीमा पर करीब एक सौ कैमरे लगाए जाएंगे। इसके लिए बजट भी जारी कर दिया गया है।
3 से 5 किमी तक रहेगी नजर
बॉर्डर पर हाई क्वालिटी के कैमरे लगाए जा रहे है। इन कैमरों से 3 से 5 किलोमीटर का दायरा साफ नजर आएगा। ऐसी स्थिति में अवांछित गतिविधियों पर निगरानी रखने के लिए सीसीटीवी कैमरों की मदद से जवानों को सहूलियत रहेगी।
---
एक साल में इन मामलों ने चौंकाया
- एक सप्ताह पहले एक नाबालिग पाकिस्तानी भारतीय सीमा तक पहुंच गया। हालांकि मासूम को बीएसएफ के जवानों ने गश्त के दौरान देख लिया और उसे रोक दिया गया। उसके बाद पाक रैंजर्स को सूचित कर वापस सौंप दिया।
- फरवरी 2021 में बिजराड़ थाना क्षेत्र में पाकिस्तान से आई हेरोइन की खेप एसओजी ने बरामद कर आरोपी बचाया खान को गिरफ्तार किया। यह सात किलो हेरोइन तस्करों के मार्फत पंजाब पहुंचनी थी।
- सात माह पहले पाकिस्तान तस्कर रोशन खान ने नकली नोट व हेरोइन की खेप सीमा से पार करवा दी और यहां बॉर्डर पर स्थानीय तस्करों ने कुरियर प्राप्त किया और आगे सप्लाई देने की तैयारी में थे। ऐसे में एक नकली नोट बैंक तक पहुंच गया और बैंक कर्मियों की सूझबूझ के चलते नकली नोट खेप व हेरोइन का बड़ा खुलासा हुआ।
- करीब चार माह पूर्व एक बदहवाश युवक गेमराराम भागते हुए भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा की तारबंदी को लांघकर पार हो गया। और बीएसएफ को भनक तक नहीं लगी। उसके बाद उसे पाक में गिरफ्तार कर लिया। वतज़्मान में पाकिस्तान की जेल में है।
- एक साल पहले मुनाबाव के पास एक पाकिस्तानी घुसपैठिया सीमा पार कर भारत में घुस गया। ग्रामीणों की सूचना पर बीएसएफ ने पीछा कर उसे दबोच लिया।
- छह माह पूर्व बाखासर बॉडज़्र क्षेत्र में पाकिस्तानी घुसपैठिए को भारत-पाक बॉर्डर सीमा पार भारत में घुसने के दौरान बीएसएफ ने मार गिराया।
---
- सीसीटीवी कैमरे लग रहे है
बाड़मेर जिले से सटी पश्चिमी भारत-पाक सीमा पर सीसीटीवी कैमरे लगवाए जा रहे है। दो सप्ताह में काम पूरा हो जाएगा। - एम.एल. गर्ग, डीआईजी, बीएसएफ गुजरात फ्रंटियर

भवानी सिंह Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned