दिव्यांग बच्चे किसी से कम नहीं- चौधरी

- कृत्रिम अंग-उपकरण वितरण कार्यक्रम

By: Dilip dave

Published: 04 Mar 2021, 07:11 PM IST

बाड़मेर. दिव्यांग बच्चे सामान्य बच्चों से किसी भी क्षेत्र में कम नहीं है, आवश्यकता है इन्हें उचित मार्गदर्शन की। इन्हें यदि समय पर मार्गदर्शन और प्रोत्साहन मिले तो ये बच्चे आसमान छू सकते हैं। ये उद्गार मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी मूलाराम चौधरी ने समग्र शिक्षा अभियान की ओर से मुभीछा राउमावि गौधी चौक में आयोजित समावेशित शिक्षा कार्यक्रम के कृत्रिम अंग-उपकरण वितरण समारोह में मुख्य अतिथि पद से बोलते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि कृत्रिम अंग और उपकरण इनके भविष्य के लिए वरदान साबित होंगे।

कार्यक्रम अध्यक्ष प्रधानाचार्य कमलसिंह राणीगांव ने कहा कि दिव्यांगता के प्रति समाज में सकारात्मक सोच बनाने, शिक्षा के प्रति जागरूकता लाने और समाज में भेदभाव मिटाने के लिए दिव्यांग बच्चों को संबलन प्रदान किया जाना बहुत ही आवश्यक है। उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजनों से इन बच्चों में आत्मविश्वास बढऩे के साथ-साथ इनकी प्रतिभाएं समाज के सामने आती है। उन्होने अभिभावकों से आहवान किया कि दिव्यांग बच्चों के साथ-साथ गांव के अन्य बच्चों को शिक्षा से जोडऩे का प्रयास करें।उन्होंने कहा कि दिव्यांग के साथ-साथ हरके एक-दूसरे को सहयोग करें ताकि बच्चों का सर्वांगीण विकास हो सके। समारोह में आठ दृष्टिबाधित बच्चों को मोबाइल व स्मार्ट केन, छह बच्चों को टाईसाइकिल, पांच को कान की मशीन, तीन को व्हील चेयर, दो को रोलेटर, चार को एमआर किट वितरित किए गए।

कार्यक्रम अधिकारी गुमनाराम जाखड़ ने समग्र शिक्षा अभियान के विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी दी। समाजसेवी तेजदान चारण का अतिथितियों ने शॉल ओढ़ा सम्मान किया। कार्यक्रम में विशेष शिक्षक असरूप खान, ब्रिजेस पूनिया, सन्दर्भ शिक्षक लीना सांचीहर, गुलजारीलाल नंदा ने भाग लिया। समारोह से पूर्व परामर्शदात्री बैठक का आयोजन किया गया जिसमें दिव्यांग बच्चों की शिक्षा को लेकर भविष्य की रणनीति विचार-विमर्श किया गया।

इस अवसर पर फिजियो थैरेपीस्ट रमेश कुमार ने सत्ताइस बच्चों को फिजियो थैरेपी प्रदान की। संचालन विशेष शिक्षक असरूप खान ने किया।

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned