कालूड़ी गांव बना छावनी, छह थानों की पुलिस तैनात, आखिर ऐसा क्यों? जानिए पूरी खबर

कालूड़ी गांव बना छावनी, छह थानों की पुलिस तैनात, आखिर ऐसा क्यों? जानिए पूरी खबर

bhawani singh | Publish: Sep, 08 2018 09:56:58 PM (IST) Barmer, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/barmer-news/

बालोतरा . कालूड़ी गांव में शुक्रवार देर रात दो पक्षों के बीच हुए विवाद, मारपीट व आगजनी की घटना के बाद शनिवार को गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। गांव में सर्किल के थानों के अलावा पुलिस लाइन का जाप्ता तैनात किया गया। इसके अलावा एसडीओ, एएसपी समेत पुलिस अधिकारियों ने गांव में डेरा डाल दिया। पुलिस-प्रशासन ने पूरे दिन गांव के हालात पर नजर रखी। दोपहर बाद जिला कलक्टर व पुलिस अधीक्षक भी कालूड़ी गांव पहुंचे। उन्होंने लोगों से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली व समझाइश की।

 

दोनों पक्षों की ओर से क्रॉस मामले दर्ज करवाए गए। कालूड़ी गांव में शुक्रवार देर रात दो पक्षों में चला आ रहा विवाद बढ़ गया। यहां एक खेत की बाड़ व एक छप्पर को जला दिया गया। मारपीट में तीन युवकों को चोटें आई। सूचना पर कालूड़ी गांव की अस्थायी चौकी से पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। सूचना पर वृत्ताधिकारी विक्रमसिंह व थानाप्रभारी भंवरलाल सीरवी भी पहुंचे। पुलिस ने वहां से दो युवकों को हिरासत में लिया। इसके बाद चोटिल लोगों को बालोतरा के राजकीय नाहटा अस्पताल भिजवाया गया। एहतियातन सर्किल के थानों का जाप्ता व पुलिस लाइन से रिजर्व जाप्ता मंगवाया गया।

 

गांव बना छावनी

अधिकारी शनिवार दोपहर बाद तक गांव में ही रहे। पुलिस ने गांव में आने-जाने वालों की गतिविधियों पर नजर रखी। रातो रात ही पचपदरा, सिवाना, मंडली, कल्याणपुर, बालोतरा, व पुलिस लाइन से एक पुलिस निरीक्षक के नेतृत्व में पुलिस जाप्ता मंगवा गांव में चप्पे-चप्पे पर तैनात कर दिया।

 

कालूड़ी प्रकरण को लेकर क्रॉस मामले दर्ज
कालूड़ी विवाद को लेकर पुलिस थाने में दो परस्पर मामले दर्ज हुए हैं। एक मामला पुलिस ने मारपीट में घायल युवक के पर्चा बयान के आधार पर किया, जबकि दूसरा मामला रिपोर्ट के आधार पर दर्ज किया गया।


तीन युवक पुलिस हिरासत में
कालूड़ी गांव में देर रात उपजे विवाद के बाद जबरसिंह व जोगराजसिंह को हिरासत में लिया। इसके बाद चुन्नीलाल को गांव से हिरासत में लिया गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned