लाभार्थी के खाते में राशि जमा करवाना मुश्किल, फिर कैसे होगा ओडीएफ का लक्ष्य पूरा,आखिर ऐसा क्यों?

- डेढ़ माह से स्वच्छ भारत की साइट ही बंद
- लाभार्थी के खाते में जमा नहीं हो रही है राशि

By: भवानी सिंह

Published: 12 Jan 2018, 11:43 AM IST

बाड़मेर. प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनी स्वच्छ भारत मिशन की ई-साइट बंद होने से लाभार्थियों के खातों में रुपए जमा करवाना मुश्किल हो रहा है।
स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत जिले के खुले से शौच मुक्त करने के लिए सरकार की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में शौचालय बनाने वाले लाभार्थी परिवार को 12 हजार की सहायता राशि दी जाती है। शौचालय बनने के बाद जीओ टेगिंग होने के बाद यह राशि लाभार्थी के खाते में जमा होती है, लेकिन लगभग डेढ़ माह से साइट बंद होने से लाभार्थियों के खाते में रुपए जमा नहीं हो रहे हैं। इससे सरकार की महत्ती योजना प्रभावित हो रही है।

इधर अधिकारी पटक रहे डंडा
जिले को ओडीएफ घोषित करवाने के लिए जिला परिषद से लेकर पंचायत स्तर व नगर परिषद क्षेत्र में संबंधित अधिकारी कर्मचारियों को बैठक में स्वच्छ भारत का काम पूर्ण करवाने के लिए निर्देश दिए जाते हैं। लेकिन राज्य सरकार के खाते में पर्याप्त बजट नहीं होने के कारण लाभार्थियों को इसका फायदा नहीं मिल रहा।

हर बार एक ही जबाव
लाभार्थी परिवारों की ओर से संबंधित विभाग को बजट का पूछने पर एक ही जबाव मिलता है कि आगे से साइट बंद है। ऐसे में कई लोग कार्यालयों के चक्कर काट कर परेशान होते नजर आ रहे हैं। साइट बंद होने से सरकार की महत्वपूर्ण योजना प्रभावित हो रही है। लगभग डेढ़ माह से साइट बंद होने से लाभार्थियों के खाते में रुपए जमा नहीं हो रहे हैं। इससे सरकार की महत्ती योजना प्रभावित हो रही है।

अभी साइट की दिक्कत है
अभी साइट की दिक्कत तो है। इसके कारण राशि खाते में जमा होने में समस्या आ रही है। ओडीएफ को लेकर हम अब तक अस्सी प्रतिशत काम कर चुके है। इस साल 1 लाख 26 हजार शौचालय बने हंै। पांच पंचायत समितियां पूर्ण ओडीएफ हो चुकी है।-एमएल नेहरा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद बाड़मेर

भवानी सिंह Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned