मल्लीनाथ पशुमेला तिलवाड़ा का विधिवत शुभारम्भ, सजा हाट बाजार, दिखी ग्रामीण संस्कृति

जिला कलक्टर ने पूजा अर्चना व ध्वजारोहण से किया किया उद्घाटन

By: Dilip dave

Published: 13 Mar 2018, 09:19 PM IST

 

-
बालोतरा. दशकों पुराने तिलवाड़ा पशुमेले को लेकर आज भी वहीं उत्साह और उमंग देखने को मिला, जो पहले था। मेला मैदान में युवाओं के साथ बुजुर्गों की उपस्थिति, गेर नृत्य की प्रस्तुति के साथ सजा हाट बाजार बरबस ही ग्रामीण संस्कृति की याद जाता कर रही थी। मौका था विधिवत उद्घाटन कार्यक्रम का।

देश विख्यात मल्लीनाथ पशु मेला तिलवाड़ा मंगलवार को ध्वजारोहण के साथ प्रारंभ हुआ। जिला कलक्टर ने विधि विधान से पूजन कर इसकी शुरुआत की। पशुपालक विभाग की ओर से आयोजित मेला को देखने व खरीदारी के लिए जिले भर से हजारों की संख्या में मेलार्थी पहुंचे। इस पर पूरे दिन यहां चहल-पहल रही।

मंगलवार दोपहर 12 बजे मेलार्थी डाक बंगले से गाजे बाजे से मेला ध्वज लेकर मेला ध्वजारोहण स्थल पहुंचे। झण्डा पुजारी पं. जोगराज दवे, जयंतीलाल दवे के मंत्रोच्चार पर कलक्टर शिवप्रकाश नकाते, तिलवाड़ा सरपंच शोभसिंह महेचा ने ध्वजारोहण किया। उपस्थित ग्रामीणों व मेलार्थियों ने मल्लीनाथ के जयकारे लगाए। इसके बाद जिला कलक्टर ने मेला मैदान में भगवान महावीर इंटरनेशनल बालोतरा की ओर से आयोजित प्याऊ व पशु चिकित्सालय का उद्घाटन किया। कलक्टर ने मेले में उत्तरप्रदेश, बिहार व अन्य प्रदेशों से आए पशु व्यापारियों से मुलाकात कर समस्याएं जानी।
प्रदर्शनी का अवलोकन, सुनी समस्याएं- इसके बाद कलक्टर ने मेला मैदान में पशुपालन विभाग, कृषि, शिक्षा सहित अन्य विभागों की ओर से लगाई गई प्रदर्शनियों का अवलोकन किया। उपस्थित पूर्व सरपंच गोपीकिशन पालीवाल, जब्बरसिंह तिलवाड़ा आदि ग्रामीणों ने कलक्टर को रेलवे के गांव की 302 रेल फाटक बंद करने से होने वाली समस्याओं से अवगत करवाया। उन्होंने रेल उच्चाधिकारियों से बात कर समाधान का आश्वासन दिया। इस अवसर पशुपालन विभाग के अतिरिक्त निदेशक डॉ.रीटा पद्मनाभन, संयुक्त निदेशक डॉ. युग भूषण वधवा, तहसीलदार सुरेन्द्र कच्छवाह, नायब तहसीलदार गोपीकिशन पालीवाल, विकास अधिकारी सांवलराम चौधरी,पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष पारसमल भण्डारी, सिणली सरपंच जेठूसिंह,पशु चिकित्सक डॉ. स्वर्णकार वैष्णव, डॉ. नारायणसिंह सोलंकी, डॉ. रोहित चारण, लोकेश पंवार मौजूद थे।

मल्लीनाथ पर चढाई ध्वजा- इससे पूर्व नदी की तलहटी स्थित मल्लीनाथ मंदिर में सुबह 10 बजे रावल किशनसिंह जसोल ने गाजे बाजे से ध्वजारोहण किया। उपस्थित जनों ने जयकारे लगाए।

मेले में उमड़े मेलार्थी- मंगलवार को ध्वजारोहण के साथ प्रारंंभ हुए पशु मेले में बड़ी संख्या में मेलार्थी पहुंचे। जिले व क्षेत्र भर से पहुंचे मेलार्थियों ने मेले में घूम फिरकर पशुओं को निहारा। मेले में लगी दुकानों पर मोल भाव करने के साथ जरूरत के सामान की खरीदारी की। वहीं आईसक्रीम, मिठाई, चाटपकौड़ी खाने का जी भर के आनंद उठाया। झूले झूलने व सर्कस देखने में बच्चों व बड़ों में हौड़ देखने को नजर आई। सुबह- शाम घुड़दौड़ मैदान पर बड़ी संख्या में लोग उमड़े। इन्होंने अश्वपालकों की रेस देखने का आनंद उठाया। वहीं मेले में पहुंचे पशु व्यापारियों ने पशुओं का मोल भाव किया। मेले में बड़ी संख्या में पहुंचे पशुओं व लगी दुकानों पर क्षेत्र भर से लोग यहां आ रहे हैं। इस पर सुबह-शाम मेले में अधिक चहल-पहल व रौनक दिखाई देती है।

 

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned