पुरानी पेंशन बहाली की मांग, कर्मचारियों का प्रदर्शन

पुरानी पेंशन बहाली की मांग, कर्मचारियों का प्रदर्शन

Mahendra Trivedi | Publish: Aug, 08 2019 10:30:40 PM (IST) Barmer, Barmer, Rajasthan, India

बाड़मेर (barmer) मुख्यालय पर स्थित महावीर पार्क (mahaveer park) में सभा (meeting) में कर्मचारियों ने रोष जाहिर कर केंद्र व राज्य सरकार से नवीन पेंशन योजना (new pension scheme) बंद कर पुरानी पेंशन योजना (old pension scheme)बहाल करने की मांग की।

बाड़मेर. नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम संगठन की ओर से वर्ष 2004 के बाद केंद्रीय व राज्य सेवा में कार्यरत कर्मचारियों (employees) पर लागू नवीन पेंशन योजना (new pension scheme) से कर्मचारियों पर पड़ रहे प्रतिकूल प्रभाव के बाद देशभर में एनपीएस बंद कर ओपीएस आरंभ करने का आंदोलन चरम पर है। एनएमओपीएस की ओर से किए जा रहे आंदोलन की कड़ी में गुरुवार को राष्ट्र व्यापी आह्वान पर देशभर के जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन किया गया। बाड़मेर (barmer) मुख्यालय पर स्थित महावीर पार्क (mahaveer park) में सभा में कर्मचारियों ने रोष जाहिर कर केंद्र व राज्य सरकार (GOR) से नवीन पेंशन योजना बंद कर पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की मांग की। सभा को प्राथमिक-माध्यमिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष नूतनपुरी गोस्वामी, प्रगतिशील संघ जिलाध्यक्ष देरावरसिंह चौधरी, शेखावत संघ जिलाध्यक्ष भगवानाराम जाखड़, पंचायती राज संघ जिलाध्यक्ष बांकाराम सांजटा, प्रबोधक संघ के उगमसिंह सुरा, रेसला के किशनलाल प्रजापत, रेसा के गौतम गोदारा ने संबोधित किया।

कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन
महावीर पार्क से रवाना हुई रैली विवेकानंद सर्कल होते हुए कलक्ट्रेट पहुंची। जहां एनपीएस के विरोध में नारेबाजी कर जिला संयोजक घमंडाराम कड़वासरा की अगुवाई में जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप देश के 65 लाख व राज्य के 4.5 लाख कर्मचारियों व उनके परिवारों के हित में एनपीएस बंद कर ओपीएस लागू करने की मांग की गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned