scriptFarmers should make maximum use of innovative techniques- Pramod Kumar | किसान नवीन तकनीकों का ज्यादा से ज्यादा करें प्रयोग- प्रमोदकुमार | Patrika News

किसान नवीन तकनीकों का ज्यादा से ज्यादा करें प्रयोग- प्रमोदकुमार

केवीके गुड़ामालानी में कार्यक्रम आयोजित

बाड़मेर

Updated: December 24, 2021 12:51:02 am

 -बाड़मेर. भारत के पांचवें प्रधानमंत्री चौधरी चरणसिंह की जयंती के मौके पर गुरुवार को राष्ट्रीय किसान दिवस मनाया गया।

इस अवसर पर कृषि विज्ञान केंद्र गुडामालानी में आयोजित कार्यक्रम में केंद्र प्रभारी डॉ. प्रदीप पगारिया ने कहा कि चौधरी चरण सिंह ने अपने कार्यकाल में कृषि क्षेत्र के उत्थान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और किसानों के हित के लिए कई नीतियों का मसौदा तैयार किया। उन्होंने भारतीय किसानों के कल्याण के लिए कार्य किया। 2001 में सरकार ने चौधरी चरण सिंह के जन्मदिन को किसान दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया।
किसान नवीन तकनीकों का ज्यादा से ज्यादा करें प्रयोग- प्रमोदकुमार
किसान नवीन तकनीकों का ज्यादा से ज्यादा करें प्रयोग- प्रमोदकुमार
मुख्य अतिथि एसडीएम प्रमोद कुमार ने किसान दिवस की सभी को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि किसान नवीन तकनीकों का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करें, जिससे उत्पादन और आय में वृद्धि हो सके। कार्यक्रम अध्यक्ष प्रधान गुडामालानी बिजला राम चौहान ने कहा कि किसानों को यहां से नवीन तकनीकी जानकारी मिलती है।
डॉ. रमेश चौधरी पशु चिकित्सा अधिकारी गुडामालानी, देवाराम जिला परिषद सदस्य , मानाराम तहसीलदार गुडामालानी, डॉ. बाबूलाल पशु चिकित्सा अधिकारी भाखरपुरा, डॉ. लक्ष्मण विश्नोई पशु चिकित्सा अधिकारी भेडाणा, डॉ. बाबूलाल जाट, डॉ. सुमन शर्मा, डॉ. रावता राम, छगन लाल, प्रह्लाद सिहोल आदि मौजूद थे। धन्यवाद ज्ञापित डॉ. हरीदयाल चौधरी ने किया 
प्रसार कार्यकर्ता सहज रह कर दें जानकारी- बाड़मेर जिले में नवाचार व नए अनुसंधान के साथ बदलते मौसम के कारण होने वाली प्रतिकूल प्रभाव आदि के लिए कृषि वैज्ञानिकों के साथ-साथ प्रसार कार्यकर्ताओं को भी अपने-अपने क्षेत्र में सजग रहने की आवश्यकता है जिससे कि जिले में प्रतिकूल परिस्थितियों से खेती को समय रहते हुए बचाया जा सके। उक्त उद्गार वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ. प्रदीप पगारिया ने प्रसार कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर के समापन अवसर कही।
प्रसार कार्यकर्ताओं को इसबगोल फसल में कीट, व्याधि, रोग प्रबंधन तथा अनार में समन्वित पोषण प्रबंधन पर प्रशिक्षण दिया गया।

डॉ. बाबूलाल जाट ने कहा कि बाड़मेर जिले मेंप्रसार कार्यकर्ताओं को अधिक से अधिक फसलों के कीट प्रबंधन को लेकर जागरूक रहने की आवश्यकता है। डॉ. हरदयाल चौधरी ने कहा कि प्रसार कार्यकर्ताओ को अनार फसलों में पोषक तत्वों का समुचित उपयोग तथा नियमित रूप से पोषण प्रबंधन करना चाहिए

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

India-Central Asia Summit: सुरक्षा और स्थिरता के लिए सहयोग जरूरी, भारत-मध्य एशिया समिट में बोले पीएम मोदीAir India : 69 साल बाद फिर TATA के हाथ में एयर इंडिया की कमानयूपी चुनाव से रीवा का बम टाइमर कनेक्शननागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रUP Election 2022: भाजपा सरकार ने नौजवानों को सिर्फ लाठीचार्ज और बेरोजगारी का अभिशाप दिया है: अखिलेश यादवतमिलनाडु सरकार का बड़ा फैसला, खत्म होगा नाईट कर्फ्यू और 1 फरवरी से खुलेंगे सभी स्कूल और कॉलेजपीएम नरेंद्र मोदी कल करेंगे नेशनल कैडेट कॉर्प्स की रैली को संभोधित, दिल्ली के करियप्पा ग्राउंड में होगा कार्यक्रम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.