अवैध कनेक्शन, नियम विरुद्ध इकाई संचालन, जानिए कौन लगा रहा है सरकार को चूना...

-जिम्मेदार नहीं मान रहे जिम्मेदारी

-विद्युत कनेक्शन काटे तो नई तरकीब निकाल शुरू की इकाइयां

-पड़ोस के भूखण्डों से अवैध केबल लगा चला रहे कारखाने

By: भवानी सिंह

Published: 11 Dec 2017, 03:28 PM IST

बालोतरा. नगर परिषद आबादी इलाकों में लंबे समय से लोगों के लिए सिर दर्द बनी धुपाई इकाइयों को नगर परिषद, प्रदूषण नियंत्रण मंडल व प्रशासन बंद करवाने में नाकाम साबित हो रहे हैं। इन इकाइयों से निस्तारित होने वाले घातक रासायनिक पानी को खुले नालों, नालियों व भूखण्डों में बहाया जा रहा है, जबकि एनजीटी (नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल) ने खुले में रासायनिक पानी को छोडऩे पर रोक लगा रखी है। हालांकि कुछ दिन पूर्व नगर परिषद की रिपोर्ट पर डिस्कॉम ने कुछेक इकाइयों के विद्युत कनेक्शन भी विच्छेद किए थे, लेकिन संचालकों ने नई तरकीब निकाल अवैध कनेक्शन ले लिए और धड़ल्ले से इकाइयां संचालित कर रहे हैं।

शहर में रबारियों का टांका समेत विभिन्न आबादी इलाकों में लंबे समय से अवैध कपड़ा धुपाई कारखानों का संचालन हो रहा है। करीब डेढ़ माह पूर्व राजस्थान संपर्क पोर्टल पर इन इकाइयों की शिकायत हुई तो नगर परिषद ने सर्वे कर डिस्कॉम को विद्युत कनेक्शन काटने की सूची सौंप जिम्मेदारी पूरी कर ली, तो डिस्कॉम ने भी सूची के अनुसार कनेक्शन विच्छेद कर इतिश्री कर ली। इसके बाद कोई कार्रवाई नहीं होने पर संचालक अवैध विद्युत कनेक्शन लेकर इकाइयों का संचालन कर रहे हैं।
प्रबल हो रही विद्युत चोरी की आशंका- रबारियों का टांका इलाके में जिन धुपाई इकाइयों के विद्युत कनेक्शन विच्छेद किए गए थे। उनमें से कई इकाइयों के विद्युत कनेक्शन की केबल को पोल से भी नहीं हटाया गया। जिससे रात में इकाई संचालकों की ओर से पुन: जोडऩे की संभावना है। ये सभी इकाइयों आज भी संचालित हो रही हैं।

ये बोले जिम्मेदार- राजस्थान पत्रिका ने जब जिम्मेदार अधिकारियों से बात की तो सभी जिम्मेदारी से बचते नजर आए। नगर परिषद आयुक्त शिवपालङ्क्षसह राजपुरोहित बोले कि विद्युत कनेक्शन कटवा दिए, फिर भी नहीं मान रहे। एसडीएम का भागीरथ चौधरी का कहना है कि नगर परिषद का काम ? है, कार्रवाई वहां से होगी। वहीं सबसे अधिक जिम्मेदारी प्रदूषण रोकने की राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल की है। मंडल क्षेत्रीय प्रबंधक जगदीशसिंह राका कहना है कि नगर परिषद क्षेत्र के प्रदूषण से हमें कोई लेना-देना नहीं है। डिस्कॉम के अधिशासी अभियंता सोनाराम पटेल ने कार्रवाइ्र करने की बात तो कही, लेकिन अवैध कनेक्शन का अब तक पता क्यों नहीं किया, इसका जवाब नहीं दिया।

भवानी सिंह Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned