scriptगोल्डी बराड़ के नाम से धमकी देना पड़ गया महंगा, पुलिस ने किया गिरफ्तार | Patrika News
बाड़मेर

गोल्डी बराड़ के नाम से धमकी देना पड़ गया महंगा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

सिवाना पुलिस थाने में दर्ज बैंक मैनेजर को कुख्यात बदमाश गोल्डी बराड़ के नाम पर विदेश से धमकी देने के मामले में रेंज की साइक्लोनर टीम व सिवाना थाना पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस टीम ने सिवाना थाने में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने अनुपगढ़ जिले के रायसिंहनगर कस्बे में किराए की दुकान खाली करने के विवाद को लेकर बैंक मैनेजर को धमकी दी।

बाड़मेरJun 17, 2024 / 12:06 am

Dilip dave

आरोपी ने मलेशिया में बैठ बनाया फर्जी वाट्सऐप एकाउंट

बालोतरा.सिवाना पुलिस थाने में दर्ज बैंक मैनेजर को कुख्यात बदमाश गोल्डी बराड़ के नाम पर विदेश से धमकी देने के मामले में रेंज की साइक्लोनर टीम व सिवाना थाना पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस टीम ने सिवाना थाने में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने अनुपगढ़ जिले के रायसिंहनगर कस्बे में किराए की दुकान खाली करने के विवाद को लेकर बैंक मैनेजर को धमकी दी। आरोपियों ने धमकी देने के लिए त्रिपुरा राज्य से एक फर्जी सिम कार्ड जारी करवा कर उस पर फर्जी वाट्सऐप एकाउंट बैंक मैनेजर काे धमकी दी थी।

ये था विवाद

पुलिस के अनुसार अनुपगढ़ जिले के रायसिंहनगर निवासी अंकुश मिगलानी सिवाना कस्बे के एक बैंक में मैनेजर है। बैंक मैनेजर के पिता की रायसिंहनगर में किराए की दुकान में किराणा का व्यापार करते है। उस दुकान के मालिक ने बैंक मैनेजर के पिता को दुकान खाली करवानी चाही, लेकिन इन्होंने खाली नहीं की और इसके बाद न्यायालय में दावा भी लगा दिया। इसके चलते विवाद चल रहा था।

पुलिस ऐसे पहुंची आरोपियों तक

विदेश से गोल्डी बराड़ के नाम से धमकी देने के प्रकरण को रेंज आइजी विकास कुमार ने गंभीरता से लिया तथा खुलासे के लिए ऑपरेशन थार्न एप्पल शुरू कर मामले की जांच में साइक्लोनर सेल के परमित चौहान को जांच में शामिल किया। रेंज की साइक्लोनर टीम ने धमकी देने वाले बदमाशों के मोबाइल नंबरों की पूरी तरह से छानबीन शुरू की। जांच के दौरान सामने आया कि धमकी देने बहुत शातिर व तकनीकी दक्ष था। मलेशिया में प्राइवेट नौकरी करने वाले सुनिल गोदारा ने रायसिंहनगर में रहने वाले श्रवणकुमार बिश्नोई से फर्जी वाट्सऐप अकाउंट बनाने के लिए फर्जी सिम के लिए मदद मांगी थी। इसके बाद श्रवणकुमार ने रायसिंहनगर के व्यक्ति ने त्रिपुरा से एक फर्जी सिम जारी करवा सुनिल को जानकारी दी। सुनिल ने मलेशिया से खुद को गोल्डी बराड़ का खास आदमी बताते हुए गोलियों से भूनने की धमकी दी। इसके बाद साइक्लोनर सेल के इनपुट पर सिवाना पुलिस ने आरोपी श्रवण कुमार पुत्र विष्णु कुमार विश्नोई निवासी पीएमएचकेवाईडी खाजूवाला जिला बीकानेर को दबोच लिया।

Hindi News/ Barmer / गोल्डी बराड़ के नाम से धमकी देना पड़ गया महंगा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

ट्रेंडिंग वीडियो