सात बार पलटी तेज रफ्तार कार, शीशे टूटने से उछलकर बाहर गिरे सवार, दो मासूमों की मौत

bhawani singh

Publish: Dec, 07 2017 01:48:00 (IST)

Barmer, Rajasthan, India
सात बार पलटी तेज रफ्तार कार, शीशे टूटने से उछलकर बाहर गिरे सवार, दो मासूमों की मौत

- कार के शीशे व दरवाजे टूटने से भीषण हो गया हादसा

- दो मासूमों को लील गया हादसा

- कार चालक ने नील गाय को बचाने का किया था प्रयास

बाड़मेर. जिले के सदर थाना क्षेत्र के गंगासरा फांटा पर बुधवार दोपहर बाद हुए भीषण सड़क हादसे में नील गाय को बचाने के प्रयास में कार करीब सात बार पलटने के बाद गड्ढ़े में जा गिरी। कार में सवार तेरह लोग कांच टूटने और दरवाजे टूटने से इधर-उधर गिर पड़े। तेज रफ्तार के कारण कार में सवार चार की मौके पर ही मौत हो गई और नौ घायल हो गए। कार में सवार ग्यारह जने होडू गांव के और दो बच्चे गंगासरा के रहने वाले थे।

चालक ने खो दिया नियंत्रण
प्रत्यक्षदॢशयों ने बताया कि स्कार्पियो सड़क पर अचानक आई नील गाय को बचाने के प्रयास में पलटी। स्पीड अधिक होने के कारण चालक नियंत्रित नहीं कर सका और कार एक के बाद एक पलटी खाते हुए गड्ढ़े में गिर गई। कार के नीचे दबने से चार जनों की मौत हो गई। वहीं मौके पर घायलों की चीख पुकार मच गई। हादसा इतना भीषण था की कार पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई।

आसपास के लोग जुटे सहायता में
इस कार के पीछे आ रहे वाहनों में सवार लोगों व आसपास के ग्रामीण हादसे के तुरंत बाद सहायता के लिए पहुंच गए। निजी वाहनों व ट्रोलों से घायलों को बाड़मेर लेकर रवाना हुआ। सूचना मिलते ही पुलिस भी पहुंच गई। 108 भी घटना स्थल पर पहुंची लेकिन इससे पहले ही घायलों को अस्पताल पहुंचा दिया था।

खुशी-खुशी हुए थे विदा
ये सब लोग सारणों का तला होडू के निवासी थे। होडू से मंगलवार को शादी में शरीक होने गंगासरा गए थे। गंगासरा में परिवारों की बेटियां ब्याही हुई है और उनके घरों में ही आयोजन था। बुधवार को रवाना हुए तो दो बच्चे साथ हो लिए जो इनके रिश्ते में नाती-नातिन थे। तेरह जने स्कार्पियो में बैठे और शादी की खुशियां साझा करते हुए परिजनों ने भी इनको खुशी- खुशी विदा किया। रवाना होते हुए फिर आने और राजी खुशी रहने की दुआएं भी हुई थी लेकिन इनको क्या मालूम की यह उनकी अंतिम मुलाकात होगी। बच्चों को नाना के साथ विदा करने वाली मां को भी यह कहां पता था कि यह मासूमों को किया हुआ उसका आखिरी दुलार है। मुस्कराते हुए विदा हुए सभी सदस्य भी शादी की बातें ही कर रहे थे कि डेढ़ दो किलोमीटर दूर गोलाई पर हादसा हो गया।

दोनों गांवों में खुशियां बदली मातम में
गंगासरा और होडू दोनों गांवों में इन परिवारों की खुशियां मातम में बदल गई। शादी वाले घर में दो बच्चों की मौत ने खुशियों पर पानी फेर दिया तो अपनों के आने का इंतजार कर रहे गंगासरा के परिवार के लिए भी यह हादसा हृदय विदारक रहा। परिवारों में मातम छा गया।

बच्चों का किया अंतिम संस्कार
हादसे की सूचना मिलने पर मौके पर करीब दो सौ लोग एकत्रित हो गए। दो बच्चों का उनके गांव गंगासरा में अंतिम संस्कार करवाया गया। दो अन्य मृतकों के शवों को होडू पहुंचाया। जहां गुरुवार को अंतिम संस्कार होगा।

दो मासूमों के साथ नाना की मौत
मृतक रामाराम व जालाराम की पुत्रियों की शादी गंगासरा हो रखी है। ननिहाल जाने के लिए मृतक रामाराम की दोहिती व एक अन्य परिजन का दोहीता साथ रवाना हो गए। हादसे में नाना व दोहीता-दोहिती की मौत हो गई। मृतक भावना व देवीलाल अपने -अपने ननिहाल सारणों का तला स्कूल में पढ़ते थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned