राजस्थान में सैकड़ों व्याख्याताओं को मिलेगी यह जिम्मेदारी...

राजस्थान में सैकड़ों व्याख्याताओं को मिलेगी यह जिम्मेदारी...
राजस्थान में सैकड़ों व्याख्याताओं को मिलेगी यह जिम्मेदारी...

Dileep Kumar Dave | Updated: 04 Jun 2019, 08:53:53 PM (IST) Barmer, Barmer, Rajasthan, India

काउंसलिंग के माध्यम से भरे जाएंगे पद, प्रदेश को 1156 प्रधानाचार्य मिलेंगे- बाड़मेर जिले में 211प्रधानाचार्य की होगी नियुक्ति

 

-

बाड़मेर. जिले के नवक्रमोन्नत उच्च माध्यमिक विद्यालयों और पुराने विद्यालयों में अब संस्था प्रधान की कमी नहीं रहेगी। सरकार ने काउंसलिंग प्रक्रिया आरम्भ कर पद रिक्तता समाप्त करने की कवायद आरंभ की है। प्रदेश के बीस जिलों में प्रधानाचार्य पद पर नियुक्ति होगी। बाड़मेर जिले में 211 प्रधानाचार्य मिलने की उम्मीद है।
जिले सहित प्रदेश में हजारों उच्च माध्यमिक विद्यालयों के सहीं संचालन के लिए संस्था प्रधान की कमी खल रही है। विभिन्न जिलों में करीब साढ़े ग्यारह सौ विद्यालय संस्था प्रधान विहीन हैं। इन विद्यालयों में शिक्षण कार्य प्रभावित हो रहा है। अब राज्य सरकार ने काउंसलिंग शुरू कर रिक्त पद भरने की तैयारी शुरू की है। प्रदेश के 33 में से 20 जिलों में प्रधानाचार्य उमावि पद पर पदोन्नति को लेकर काउंसलिंग चल रही है। एेसे में आने वाले दिनों में संस्था प्रधानों के रिक्त पद की समस्या समाप्त हो जाएगी।

---

पदोन्नति का फायदा

काउंसलिंग में व्याख्याताओं को आमंत्रित किया गया है। इनको काउंसलिंग के बाद प्रधानाचार्य नियुक्त किया जाएगा। एेसे में प्रदेश के 1156 व्याख्याताओं को पदोन्नति का फायदा मिल जाएगा। वहीं,प्रधानाचार्य के पद भी रिक्त नहीं रहेंगे।
--

जिले में 211 पदों पर काउंसलिंग

विभाग की ओर से जारी सूची के अनुसार प्रदेश के बीस से ज्यादा पद रिक्तता वाले जिलों में 1156 पद खाली हैं। इनमें से बाड़मेर जिले में 211 पद रिक्त है। इसको लेकर काउंसलिंग हो रही है।
--

विशेष श्रेणी व महिला अभ्यर्थियों के लिए अतिरिक्त रिक्तियां

बीस जिलों में सामान्य श्रेणी के अभ्यर्थियों के लिए काउंसलिंग है, वहीं विशेष श्रेणी और महिला आशार्थियों के वर्तमान पद स्थापित जिले में पद स्थापन के लिए न्यून रिक्तियों वाले तेरह जिलों में अतिरिक्त रिक्तियों को लेकर काउसंलिंग हो रही है।

---
मिलेगा फायदा- जिले में संस्था प्रधानों के पद रिक्त होने से शिक्षण कार्य प्रभावित हो रहा है। अब काउंसलिंग होने से प्रधानाचार्य पद पर नियुक्ति हो रही है। इससे पद रिक्तता समाप्त होगी और शिक्षण व्यवस्था में सुधार होगा।- शेरसिंह भूरटिया, शिक्षक नेता

सराहनीय पहल- सरकार ने सराहनीय पहल की है। इससे प्रधानाचार्य के पद रिक्त नहीं रहेंगे। शिक्षण व्यवस्धा में सुधार होगा।- बनाराम चौधरी, प्रदेशाध्यक्ष, राजस्थान शिक्षक संघ, प्रगतिशील

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned