वे चाय पर बुलाएं तो समझाऊंगा कि कांग्रेस ने कैसे किया धोखा,किसने कहा, पढि़ए पूरा समाचार

वे चाय पर बुलाएं तो समझाऊंगा कि  कांग्रेस ने कैसे किया धोखा,किसने कहा, पढि़ए पूरा समाचार

Dilip dave | Publish: Jan, 14 2018 08:49:32 PM (IST) Barmer, Rajasthan, India

-गहलोत व कांग्रेस पर साधा निशाना

 

 

बालोतरा. रिफाइनरी को लेकर कांग्रेस और भाजपा में छिड़े वाक्युद्ध के बीच केन्द्रीय पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने भी पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर निशाना साधा है। प्रधान रविवार को रिफाइनरी कार्य शुभारम्भ स्थल का अवलोकन करने के बाद जब पत्रकारों से रुबरु हुए तो उन्होंने कहा कि केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने पत्रकारों से बातचीत में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस ने रिफाइनरी की कागजी कल्पना को जनता के सामने रखा, उसमें न अनुमति थी और ना ही कोई स्पष्ट योजना। गहलोत को लेकर उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री गहलोत अगर हमें चाय पीने के लिए बुलाए तो उनको घर जाकर समझा देंगे कि कांग्रेस ने प्रदेश के साथ धोखा कैसे किया? भाजपा ने प्रदेश के हितों का ख्याल रखते हुए पुन: समीक्षा कर 15 साल में 40 हजार करोड़ रूपए के नुकसान को बचाया। 16 जनवरी से रिफाइनरी का विधिवत कार्य शुरू हो जाएगा। इसे लेकर पूरे मारवाड़ समेत प्रदेश भर में खुशी है। बाड़मेर का होगा बड़ा नाम- बाड़मेर से देश का 25 फीसदी तेल उत्पादन हो रहा है। भविष्य में देश के औद्योगिक जगत में बाड़मेर का बड़ा नाम होगा। रिफाइनरी के साथ पेट्रोकेमिकल कॉम्पलेक्स भी बनेगा। इससे कई उद्योग-धंधे लगेंगे। लाखों युवाओं को प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। इसी साल से 10 हजार युवाओं को रिफाइनरी साइट पर काम मिलना शुरू हो जाएगा।

कई कम्पनियां दौड़ में- केयर्न को तेल खोज के लिए और ब्लॉक देने के सवाल पर कहा कि तेल खोज के लिए केवल केयर्न ही नहीं, कई कंपनियां दौड़ में है। कोई भी कंपनी ब्लॉक ले सकती है। नई पॉलिसी के आधार पर 18 जनवरी से नीलामी शुरू हो जाएगी। बाड़मेर की धरती तेल व गैस की अपार संभवनाएं है। पेट्रोलियम एनर्जी में राजस्थान एक बड़ी भूमि बनने वाला है।

पश्चिमी राजस्थान की निगाहे यहां टिकी थी- जोधपुर सांसद व केन्द्रीय कृषि मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने कहा कि पूरे पश्चिमी राजस्थान की निगाहे रिफाइनरी पर टिकी थी। लोगों का यह सपना 16 जनवरी को प्रधानमंत्री पूरा कर रहे है। कांग्रेस ने प्रदेश के 8 करोड़ लोगों के साथ धोखा किया। अब मुंह छिपाने के लिए अब बयानबाजी कर रही है।

सुरक्षा सहित अन्य व्यवस्थाओं को लेकर निर्देश- रिफाइनरी कार्य शुभारंभ स्थल का रविवार को प्रधान ने जायजा लेकर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने सम्मेलन कक्ष में एसपीसीएल, प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक लेकर व्यवस्थाओं पर चर्चा की। प्रधान ने करीब 30 मिनट तक मंच, लोगों के बैठने की व्यवस्था, सुरक्षा कक्ष, रिफाइनरी के थ्रीडी मॉडल का अवलोकन किया।

इससे पहले रविवार सुबह 11:40 बजे केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री, केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत के साथ हेलीकॉप्टर से रिफाइनरी कार्य शुभारंभ स्थल पर पहुंचे। यहां सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी व पुलिस अधिकारियों ने उनकी अगुवानी की। इसके बाद प्रधान सभास्थल पर बने स्टेज पर पहुंचे। यहां पर करीब 15 मिनट तक मंच, सभास्थल के प्रवेश द्वार, कार्यक्रम स्थल, पार्किंग समेत अन्य स्थानों के ले आउट प्लान को देखा। पुलिस अधिकारियों ने प्रधान को सुरक्षा व्यवस्था, यातायात व्यवस्था, तैनात जाप्ते को लेकर जानकारी दी। इसके बाद प्रधान ने प्रधानमंत्री के सेफ रूम, कांफ्रेस रूम व थ्रीडी मॉडल रूम का भी जायजा किया।

रावलोत से की चर्चा- केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कार्य शुभारंभ स्थल का निरीक्षण व बैठक के बाद हेलीपेड तक जाने के दौरान सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी को गाड़ी में आगे की सीट पर बिठाया तो जिलाध्यक्ष जालमसिंह रावलोत को अपने पास बिठाया। इस दौरान प्रधान व रावलोत आपस में कुछ चर्चा करते भी नजर आए।
स्वागत किया- बैठक के बाद राजस्व मंत्री अमराराम चौधरी, बायतु विधायक कैलाश चौधरी, जिलाध्यक्ष जालमसिंह रावलोत, अरूण चौधरी, गणपत बांठिया, खेराजराम हुड्डा समेत भाजपा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने माला पहना मंत्री प्रधान का स्वागत किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned