पोषण सुरक्षा पर जोर देने की आवश्यकता

पायला कल्ला में प्रक्षेत्र दिवस का आयोजन

By: Dilip dave

Published: 07 Sep 2021, 12:30 AM IST

बाड़मेर. कृषि विज्ञान केन्द्र गुड़ामालानी की ओर से गांव पायला कल्ला में नारी परियोजना के अंतर्गत बायोफोर्टिफाइड बाजरे की किस्म एचएचबी299 के प्रक्षेत्र दिवस आयोजित किया गया।

केन्द्र प्रभारी डॉ. प्रदीप पगारिया ने बताया कि इस किस्म में सामान्य किस्म के बनिस्बत 23-28 पीपीएम लोहा तथा 11-16 पीपीएम जिंक की मात्रा अधिक पाई जाती है। इसकी उत्पादन क्षमता 28 से 32 क्विंटल प्रति हैक्टेयर है।

यह किस्म 80 से 82 दिन में पककर तैयार हो जाती है। इस बार बारिश कम हुई फिर भी उम्मीद है कि कुछ ने कुछ तो पैदावार मिलेगी। डॉ. बाबुलाल जाट ने बताया कि भारत में कृषि क्षेत्र में खाद्य सुरक्षा एवं आर्थिक विकास में बहुमुखी योगदान दिया है लेकिन पोषण सुरक्षा के ऊपर भी जोर देने की आवश्यकता हैताकि खाद्य सुरक्षा के साथ-साथ पोषण सुरक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए पोषण अंतर को कम किया जा सके।

डॉ. हरिदयाल चौधरी ने केन्द्र की ओर से आयोजित विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षणों एवं मृदा नमूना लेने की विधि के बारे में जानकारी प्रदान की।

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned