5 लाख से ज्यादा लोगों ने पाक बॉर्डर पर बनाई 700 KM लंबी मानव शृंखला, सैनिकों के साथ तिरंगा थामे यूं दिखे स्टूडेंट

Vijay ram

Publish: Aug, 15 2018 04:24:58 PM (IST) | Updated: Aug, 16 2018 09:59:55 PM (IST)

Barmer, Rajasthan, India

PHOTOS: India's Independence Day 2018 live from border area

1/12

बाड़मेर/जैसलमेर/बीकानेर/गंगानगर | विजयराम.
इंटरनेशनल बॉर्डर वाले राजस्थान के 4 जिलों में 72वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर जबरदस्त उत्साह है। इसी की बानगी है कि धूप और रेत के धोरों के बीच 5 लाख से ज्यादा भी लोग करीब 700 किलोमीटर लंबी सरहद पर कतार के रूप में दिनभर डटे रहे।

 

 

रिकॉर्ड के नजरिए से कहें तो यह देश में संभवत: पहला मौका था, जब देशभक्ति का जज्बा जगाने, शहीदों को सलामी व सपूतों के सम्मान में भारत-पाक बॉर्डर पर इतनी बड़ी मानव शृंखला बनी। नवयुवक-युवतियों के हाथों में तिरंगा और हथियारों से लैस जवानों की चौकस निगाहें.. मानो कह रही हों कि देख लो दुनिया वालों ये हमारा शक्ति प्रदर्शन है।

 

 

यहां विभिन्न कार्यक्रमों में स्कूली बच्चे, शहीदों व सैनिकों के परिजन भी शामिल हुए। मानव शृंखला बनाकर खड़े लोगों ने राष्ट्रगान किया। कई स्थानों पर सुबह 11 से 1 बजे तक कार्यक्रम हुए; वहीं हर 100 फीट पर बड़े तिरंगे के साथ बच्चे पोजिशन लिए दिखे।

 

 

हवा में तैरकर आईं मुख्यमंत्री
जयपुर से हेलिकॉप्टर में उड़ान भरते हुए सीएम वसुंधरा राजे ने सीमावर्ती इलाकों का दौरान किया। उन्होंने शहीद आश्रितों व वीरांगनाओं का सम्मान किया, इसके लिए वे बच्चों के साथ मानव शृंखला में भी खड़ी हुईं। वार म्यूजियम पहुंची और हवाई निरीक्षण भी किया।

 

 

इन जिलों में 'शहादत काे सलाम'
सबसे लंबी ये मानव शृंखला 4 जिलों बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर व श्रीगंगानगर में बनी। 'शहादत काे सलाम' नाम से यह कार्यक्रम सुबह 11 से दोपहर एक बजे तक चला। बुधवार को प्रदेशभर में तिरंगा फहराया गया।

आगे की स्लाइड्स में देखें सुकूनदायक झलकियां...

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned