जैसलमेर का तो मान, इस किले का बस इतिहास में नाम

- आठवीं सदी का किला उपेक्षा का शिकार

By: Dilip dave

Published: 19 Mar 2021, 12:37 AM IST



शिव बाड़मेर. जैसलमेर का किला पूरे विश्व में प्रसिद्ध है तो उसकी कलाकृति के रूप में बनाया गया बाड़मेर जिले के कोटड़ा गांव का किला अपेक्षा का शिकार।

करीब आठवीं सदी का यह किला कोटड़ा की पहाड़ी पर स्थित है। यहां भी जैसलमेर के किले की तरह बुर्ज का निर्माण करवाया गया था। कहा जाता है कि इस किले का निर्माण जोधपुर रियासत में उस वक्त होने वाले युद्धों के दौरान विकल्प के तौर पर करवाया था, लेकिन संरक्षण के अभाव में किला दम तौड़ रहा है।

यहां जोधपुर रियासत के दौरान पहाड़ी पर भव्य किले का निर्माण हुआ था। जिसका निर्माण जैसलमेर किले के नक्शे के आधार पर किया गया था। किले के पास भव्य मंदिर व एक कुएं का भी निर्माण करवाया गया था।जो वर्तमान में संरक्षण के अभाव में जर्जर अवस्था में हो चुका है। यह किला शिव उपखंड क्षेत्र का एकमात्र किला है। जहां कई शासकों ने अपना शासन व्यवस्था चलाई।

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned