अवैध अस्पताल व क्लिनिक सीज, नीम-हकीम नदारद

जिला औषधि नियंत्रण अधिकारी व ब्लॉक सीएमएचओ की संयुक्त कार्रवाई

गिड़ा. जिला औषधि नियंत्रण अधिकारी व ब्लॉक सीएमएचओ ने बुधवार को संयुक्त कार्रवाई करते हुए अवैध हॉस्पीटल व क्लिनिक सीज किया। कार्रवाई होते ही झोलाछाप नदारद हो गए।

बाड़मेर जिला औषधि नियंत्रण अधिकारी शांतिलाल परिहार ने बताया कि गिड़ा क्षेत्र के कानोड़, जाजवा व गिड़ा में लंबे समय से मरीजों की जांच कर रहे झोलाछाप चिकित्सकों के खिलाफ कार्रवाई की गई। गिड़ा के गुजरात हॉस्पिटल में छापा मारा, जहां चिकित्सक नदारद था, अस्पताल के कागजात नहीं मिले और ना ही बायो मेडिकल वेस्ट निस्तारण किया हुआ था। एक कार्मिक मरीजों की जांच करता मिला, जिसके बाद अस्पताल को सीज कर नोटिस थमाया।

अस्पताल के पास चामुंडा मेडिकल स्टोर पर नीमहकीम मरीजों की जांच कर रहा था, जो टीम को देखकर मेडिकल बंद कर भाग गया। जाजवा गांव में जनता क्लिनिक के संचालक रामपाल के पास आवश्यक कागजात नही मिले, यहां श्यामपुरा में कार्यरत महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता मरीजों की जांच कर रही थी।

कानोड़ स्थित विश्वकर्मा मेडिकल पर भी कई तरह की अनियमितता पाई गई। मेडिकल स्टोर का लाइसेंस एक्सपायर पाया गया, जिस पर संचालक को नोटिस देकर कागजात पूरे करने तक मेडिकल बंद करने की हिदायत दी। टीम में जिला औषधि नियंत्रण अधिकारी शांतिलाल परिहार, बायतु बीसीएमओ जुंजाराम खीचड़, गिड़ा हॉस्पिटल प्रभारी सत्यनारायण आदि शामिल थे।

Show More
Moola Ram
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned