समदड़ी क्षेत्र में पहुंची टिड्डियां, किसानों की उड़ी नींद

- किसान जुटे बचाव में, पटाखे फोड़, बर्तन बजा भगाने का कर रहे जुगत

By: Moola Ram

Updated: 06 Jan 2020, 01:44 PM IST

समदड़ी (बाड़मेर). जिले के सरहदी क्षेत्र में टिड्डियों के हमले के बाद रविवार को समदड़ी क्षेत्र में इनके प्रवेश से किसानों की चिंता बढ़ गई। रविवार दोपहर बाद टिड्डी दल राखी, सावरड़ा, भूति, करमावास होते हुए पूरे समदड़ी क्षेत्र में फै ल गया। इससे किसानों को सुख चैन छीन गया है। किसान टिड्डियों को भगाने को लेकर कई तरह के प्रयास कर रहे हंै, लेकिन कामयाब नहीं हो रहे हैं।

किसानों के अनुसार इसी प्रकार टिड्डी दल का हमला जारी रहा तो सरहदी इलाके के बाद यहां भी किसान बर्बादी की कगार पर आ जाएंगे। करमावास में राइड़ा, अरण्डी, गेहूं, जीरा की फ सल पर पड़ाव डाला तो किसानों के होश उड़ गए । किसानों ने अपने स्तर पर जगह-जगह धुआं कर, ढोल, थाली, पीपे बजाकर व पटाखे छोड़कर उन्हे भगाने की कोशिश की। उसमें उन्हें काफ ी हद तक सफ लता मिली, लेकिन अब भी लाखों की संख्या में टिड्डी के क्षेत्र में भ्रमण करने से किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीरें हैं। करमावास - समदड़ी होते हुए टिड्डी दल रानीदेशीपुरा, भानावास, भलरों को बाड़ा, कोटड़ी, अजीत तक पहुंच गया है।

तहसीलदार मौके पर-

करमावास में टिड्डी दल का हमला होने की जानकारी पर तहसीलदार राकेश जैन मौके पर पहुंचे। किसानों को टिड्डी दल से बचाव की जानकारी दी । इधर राजस्व विभाग की अलग-अलग टीमें टिड्डी दल पर निगरानी रख रही है। निसं.
मायलावास.रविवार को जालोर जिले के रायथल, भंवरानी मार्ग से क्षेत्र के गांव मायलावास , मोकलसर, मोतीसरा, लूदराड़ा में पहुंची टिड्डियों ने खेतों में खड़ी फसलों को चट किया।

इनके जीरा, ईसबगोल, सरसों, अरण्डी, गेहंू फसलों को नुकसान पहुंचाने से किसानों की हालत खस्ताहाल हो गई है।मायलावास सरपंच घेवरचंद सुंदेशा, पंचायत समिति सदस्य भगवानाराम माली, रामाराम कच्छवाह, भीखीदेवी माली ने बताया कि रविवार दोपहर 12 बजे मायलावास आदि गांवों में टिड्डियां पहुंची। फसलों का नुकसान पहुंचाया। इसके बाद टिड्डियां गांव राखी,खण्डप के मार्ग समदड़ी की ओर गया।

रमणिया. गांव काठाडी, रमणिया आदि गांवों में टिड्डि दलों के प्रवेश पर किसानों ने इसे अपने स्तर पर भगाया। इनके फसलों को नुकसान पहुंचाने से किसान परेशान है।

व्यू.
उड़ते हुए टिड्डी को रोक नहीं सकते हैं। टिड्डी दल के ठहराव वाले स्थानों पर स्प्रे कर इसको नष्ट करते हैं। प्रशासन टिड्डी दल पर कृषि विभाग की गाडिय़ों से लगातार स्प्रे कर रहा है।

-शंकरराम गर्ग, तहसीलदार सिवाना

Moola Ram
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned