मरीज को चढ़ा रहा था ड्रिप, चिकित्सा टीम ने मांगी डिग्री तो कहा- मैं तो बारहवीं पास

मरीज को चढ़ा रहा था ड्रिप, चिकित्सा टीम ने मांगी डिग्री तो कहा- मैं तो बारहवीं पास
Medical department team took action against Neem hakim

Mahendra Trivedi | Publish: Oct, 08 2019 11:56:20 AM (IST) Barmer, Barmer, Rajasthan, India

- नेवरी में एक क्लीनिक पर मिला नीम हकीम, शेष जगह क्लीनिक बंद, हुए भूमिगत

कल्याणपुर (बाड़मेर). क्षेत्र के गांवो में सोमवार को चिकित्सा विभाग की टीम ने नीम हकीमों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर दबिश दी। जानकारी मिलने पर नीम-हकीमों में हड़कम्प मच गया और वे क्लीनिक बंद कर गायब हो गए।

जिला मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी के निर्देशानुसार नीम हकीमों पर कार्रवाई के लिए गठित टीम में शामिल बीसीएमएचओ डॉ. आर आर सुथार, बाड़मेर ड्रग निरीक्षक डॉ. दिनेश सुथार, सरवड़ी चिकित्सा अधिकारी डॉ. कवि वर्मा, कल्याणपुर पुलिस थाने के महिपाल ने नेवरी में नीम हकीम के क्लीनिक पर दबिश दी।

एक पलंग पर नेवरी निवासी मरीज सुआदेवी पत्नी देवाराम देवासी को ग्लूकोज की ड्रीप चढ़ रही थी। संचालक पश्चिम बंगाल निवासी डॉ. चंचल राय से पूछताछ की तो उसने स्वयं को 12वीं पढ़ा-लिखा बताया। उसके पास कोई प्रकार की चिकित्सा की डिग्री एवं क्लीनिकसंचालन का लाइसेंस नहीं पाया गया।

संचालक के पास से उपचार करने के उपकरण, भारी मात्रा में दवाइयां जब्त मिली। टीम ने इसे जब्त किया। पुलिस थाने में एफआइआर दर्ज करवाई।

उसके बाद टीम छाछरलाई कलां, कल्याणपुर, डोली राजगुरां में पहुंची, लेकिन नेवरी में कार्रवाई की भनक लगने पर नीम-हकीम क्लीनिक बन्द कर भूमिगत हो गए। बीसीएमओ ने बताया कि चिकित्सा विभाग की नीम हकीमों के खिलाफ कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned