नाम ही कटवा लिए मतदान कैसे करें,एसडीएम ने कहा-जांच पर कार्रवाई

एक माह पूर्व मतदाता प्रोविजन सूची में नाम होने व इसके बाद जारी अंतिम मतदाता सूची में नाम नहीं होने से पंचायत समिति पाटोदी की ग्राम पंचायत बागावास के दर्जनों मतदाताओं की परेशानियां बढ़ गई हैं।

बालोतरा. एक माह पूर्व मतदाता प्रोविजन सूची में नाम होने व इसके बाद जारी अंतिम मतदाता सूची में नाम नहीं होने से पंचायत समिति पाटोदी की ग्राम पंचायत बागावास के दर्जनों मतदाताओं की परेशानियां बढ़ गई हैं।

गांव में इनका आवास बना होने के साथ इस पता से आधार कार्ड, राशन कार्ड बने हुए हैं। जिला कलक्टर से नाम जुड़वाने की मांग की। इसके अभाव में न्यायालय शरण लेने की चेतावनी दी।

बागावास निवासी मांगीलाल जैन ने बताया कि उसका परिवार 80 वर्षों से गांव में रह रहा है। परिवार के अन्य सदस्य भी यहां के निवासी है। गांव में उसका मकान होने के साथ खेती है। 2000 में वह गांव से पंचायत समिति सदस्य के रूप में निर्वाचित हुआ था।

2005 में उसके सरपंच चुनाव लडऩे पर फर्जी तरीके से उसे पराजित किया गया। इसे लेकर तत्कालीन जिला कलक्टर को शिकायत करने पर उन्होंने पटवारी व ग्राम सेवक को सस्पेंड किया। इस वर्ष उसे व परिवार के सदस्यों को चुनाव लडऩे से रोकने व मतदान से वंचित करने को लेकर मतदाता सूची में से नाम हटाए गए।

4 दिसम्बर 2019 को जारी प्रोविजन मतदाता सूची में उसका व परिवार सदस्यों अन्य लोगों के नाम थे, लेकिन 3 जनवरी 2020 को जारी अंतिम मतदाता सूची में उसके, परिवार सदस्य व 125 जनों के नाम हटा लिए गए।

उपखंड अधिकारी व स्थानीय बीएलओ, ग्राम सेवक, पटवारी पर मिलीभगत से नाम हटाने का आरोप लगाते हुए प्रार्थी ने इसे लेकर जिला कलक्टर समक्ष प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया।

उन्होंने जिला कलक्टर से जांच कर नाम जुड़वाने की अपील करते हुए कहा कि ऐसा नहीं करने पर वह न्यायालय की शरण लेगा।

इसे लेकर गांव से शिकायत आई थी। इस पर संयुक्त टीम बनाई गई थी। उसकी जांच पर नाम काटने की कार्रवाई की गई।

- रोहित कुमार उपखंड अधिकारी

Show More
Mahendra Trivedi Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned