10 दिन बाद भी नहीं खुला पुजारी की हत्या का राज? जानिए पूरी खबर

10 दिन बाद भी नहीं खुला पुजारी की हत्या का राज? जानिए पूरी खबर
Not open murder case in barmer

bhawani singh | Updated: 05 Aug 2018, 11:40:23 AM (IST) Barmer, Rajasthan, India

- सिणधरी थाना क्षेत्र के बामणी गांव में हुई थी वारदात, विशेष टीम नहीं ढूंढ पाई पुजारी के हत्यारे

 

बाड़मेर. सिणधरी थाना क्षेत्र में बामणी गांव स्थित मुंजियों की प्याऊ स्थित रामदेव मंदिर के पुजारी की हत्या के मामले में दस दिन बीतने के बावजूद भी पुलिस राज नहीं खोल पाई है। ऐसे में स्थानीय लोगों में संशय बना हुआ है। पुलिस के लिए ब्लाइंड मर्डर पहेली बन गया है। पुलिस के संदिग्ध व कॉल डिटेल जुटाने के बावजूद ब्लाइंड मर्डर का राज नहीं खुल पाया है।

 

रामदेव मंदिर में 25 वर्षो से पूजा-अर्चना करने वाले पुजारी हरिराम पुत्र पेमाराम कलबी की हत्या गत 25 जुलाई की रात को अज्ञात लोगों ने संभवत: लूट के इरादे से हत्या कर दी। पुजारी के शव में हाथ से सोने का कड़ा, मुर्की, रुद्राक्ष की सोने की माला और अंगूठियां गायब थीं। कमरों के ताले भी टूटे हुए थे।

 

जांच में जुटी विशेष टीम
एएसपी कैलाशदान रतनु की ओर से विशेष टीम का गठन किया गया। टीम के सदस्यों ने सीडीआर, परिस्थितिजन्य साक्ष्यों व अब तक पड़ताल में समीक्षा की है हालांकि हत्या के मामले में कुछ भी पता नहीं चल पाया है। मामले की पड़ताल में साइबर सेल का भी सहयोग लिया जा रहा है।

 

यह मामले भी बने अबूझ पहेली
चौहटन थाना क्षेत्र में एटीएम उखाड़ ले जाना, गांधी चौक स्थित बीओबी बैंक में दिन दहाड़े लाखों रुपए चोरी की वारदात व मालगोदाम रोड पर स्थित ज्वैलर्स की दुकान पर दिनदाहड़े चोरी की वारदात हुई। पुलिस ने तीनों मामलों में टीमों का गठन कर जांच शुरू की। लेकिन आरोपी हाथ नहीं लग पाए हैं।

 

- जांच पड़ताल में लगे हैं
ब्लाइंड मर्डर है। मामले की जांच पड़ताल में अलग-अलग टीमें जुटी हुई हैं। लगातार प्रयास किए जा रहे है। - प्यारेलाल, पुलिस उप अधीक्षक गुड़ामालानी

 

ग्रामीणों ने जताया रोष
सिणधरी. मुजियों की प्याऊ बामणी स्थित रामदेव मंदिर के पुजारी हरिराम की हत्या के 10 दिन बाद भी खुलासा नहीं होने पर ग्रामीणों में रोष है। इसको लेकर शनिवार को कई लोगों ने बैठक कर सोमवार को मुख्यमंत्री के नाम उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंप हत्या का खुलासा करवाने का निर्णय लिया। इस अवसर पर दर्जनों गांवों के लोग व साधु-संत उपस्थित रहे। पुलिस की ओर से 7 दिन में खुलासा करने के आश्वासन पर पुजारी को समाधि दी गई थी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned