अब महात्मागांधी स्कूल को मिलेंगे मुखिया, प्रधानाचार्य पद की स्वीकृति

नवक्रमोन्नत स्कूल को मिलेगा फायदाफैक्ट फाइल

- प्रदेश में नव क्रमोन्नत ३८ व पूर्व में संचालित क्रमोन्नत ३४ विद्यालयों में पद स्वीकृत

By: Dilip dave

Updated: 11 Jun 2021, 12:18 AM IST

-बाड़मेर. प्रदेश के सरकारी अंग्रेजी माध्यम के विद्यालयों को अब मुखिया मिलेंगे। सरकार ने हाल ही नवक्रमोन्नत महात्मागांधी स्कू  ल में प्रिंसिपल, प्रधानाचार्य के पदों की स्वीकृति दी है। प्राथमिक, उच्च प्राथमिक से नव क्रमोन्नत महात्मगांधी स्कू  ल में प्रधानाचार्य का पद स्वीकृत कर ऑफिस आइडी आवंटित की है। साथ ही संवेतन राशि में बजट भी दिया गया है। साथ ही पूर्व में संचालित नवक्रमोन्नत स्कू  ल में प्रधानाध्यापक का पद प्रत्याहरण कर यहां प्रधानाचार्य पद की स्वीकृति दी है। प्रदेश में प्रत्याहरण पद वाले विद्यालयों की तादाद ३४ है जबकि प्राथमिक, उच्च प्राथमिक से क्रमोन्नत विद्यालयों की तादाद ३८ है।

प्रदेश के सरकारी विद्यालयों में अंग्रेजी माध्यम का बढ़ावा देने के लिए महात्मागांधी अंग्रेजी मीडियम स्कू  लों की स्थापना की गई है। २०१५ में पहले जिला स्तर पर ३३ विद्यालय खोले गए जबकि बाद में १६७ ब्लॉक पर महात्मागांधी अंग्रेजी माध्यम स्कू  ल की स्वीकृति दी गई। इन विद्यालयों में शिक्षण कार्य तो शुरू हो चुका है, लेकिन अभी तक प्रधानाचार्य पद का आवंटन नहीं हुआ था।

अब निदेशक माध्यमिक शिक्षा बीकानेर ने पदों की स्वीकृति जारी करते हुए प्राथमिक, उच्च प्राथमिक से महात्मागांधी अंग्रेजी माध्यम में क्रमोन्नत विद्यालयों में प्रधानाचार्य के पद की स्वीकृति दी है। साथ ही पूर्व में संचालित वे विद्यालय जो हाल ही उच्च माध्यमिक स्तर पर क्रमोन्नत हुए है, जहां पूर्व में प्रधानाध्यापक का पद स्वीकृत था उसको प्रत्याहरण कर वहां भी प्रधानाचार्य पद की स्वीकृति जारी की है।

विद्यालय आइडी व संवेतन भी जारी- प्रधानाचार्य का पद स्वीकृत करने के साथ ही निदेशालय ने सभी विद्यालयों को ऑफिस आइडी भी जारी कर दी है। इस आइडी से वे अब ऑनलाइन कार्य कर सकेंगे। वहीं, प्रधानाचार्य पद के लिए संवेतन राशि भी आवंटित की है। उक्त राशि में कमी होने पर शाला दर्पण पोर्टल पर अतिरिक्त बजट की मांग भी की जा सकती है।

बाड़मेर में इन विद्यालयों में पद स्वीकृत- बाड़मेर जिले में प्राथमिक, उच्च प्राथमिक स्तर से महात्मागांधी स्कू  ल में क्रमोन्नत गिड़ा व पाटोदी विद्यालय में प्रधानाचार्य का पद स्वीकृत हुआ है। वहीं, रामसर व शिव के महात्मागांधी स्कू  ल में प्रधानाध्यापक का पद प्रत्याहरण कर प्रधानाचार्य का पद स्वीकृत किया गया है।

प्रधानाचार्य पद स्वीकृति से शिक्षण होगा सुचारू- विद्यालय में शिक्षण प्रधानाचार्य के इर्द-गिर्द रहता है। एेसे में पूर्व में संचालित और नवक्रमोन्नत स्कू  ल में प्रधानाचार्य का पद स्वीकृत होने से महात्मागांधी स्कू  ल में शिक्षण कार्य सुचारू होगा। सरकार का यह कदम सराहनीय है।- बसंतकुमार जांणी, जिलाध्यक्ष राजस्थान वरिष्ठ शिक्षक संघ रेस्टा

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned