विवाहिता अपने दो मासूम बच्चों को पानी से भरे टांके में धकेलने के बाद खुद भी कूद गई

विवाहिता अपने दो मासूम बच्चों को पानी से भरे टांके में धकेलने के बाद खुद भी कूद गई

Mahendra Trivedi | Publish: Sep, 10 2018 08:14:27 PM (IST) Barmer, Rajasthan, India

दो मासूम के साथ मां टांके कूदी, तीनों की मौत

 

- दर्दनाक: गिड़ा थाना क्षेत्र के बेरी नाडी गांव की घटना

बाड़मेर. जिले के गिड़ा थाना क्षेत्र के बेरी नाडी गांव स्थित एक रहवासी ढाणी में रविवार शाम एक विवाहिता अपने दो मासूम बच्चों को पानी से भरे टांके में धकेलने के बाद खुद भी कूद गई। डूबने से मां सहित दोनों मासूम बच्चों की मौत हो गई। घटनाक्रम की सूचना पुलिस को दूसरे दिन सोमवार को मिली। इसके बाद गिड़ा थाना पुलिस मौके पर पहुंची।

पुलिस के अनुसार सवाऊ पदम सिंह सरहद के बेरी नाडी निवासी धनीदेवी (25) पत्नी केहराराम रविवार शाम अपने मासूम पुत्र मुकेश ( 2 वर्ष) व दिलीप ( 2 माह) को लेकर अपने घर के बाहर बने टांके में कूद गई। टांके में तीनों की डूबने से मौत हो गई। वारदात के दूसरे दिन सोमवार सुबह गिड़ा थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने परिजन की मौजूदगी में तीनों शवों को टांके से बाहर निकला। शवों को बायतु राजकीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। जहां मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम हुआ। विवाहिता की शादी पांच साल पहले हुई थी। मामले की जांच बायतु तहसीलदार को सौंपी गई है।
कारणों का नहीं खुलासा? शवों को बायतु राजकीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। जहां मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम हुआ। विवाहिता की शादी पांच साल पहले हुई थी। मामले की जांच बायतु तहसीलदार को सौंपी गई है।
कारणों का नहीं खुलासा?

दो मासूम व विवाहिता की मौत के कारणों का पुलिस खुलासा नहीं कर पाई है। विवाहिता के पीहर व ससुराल पक्ष के लोग घटनास्थल पर मौजूद रहे। लेकिन किसी ने भी पुलिस को घटना की क्या वजह रही? इसकी कोई जानकारी नहीं दी। इधर, पुलिस तीन जनों की मौत के बावजूद मामले को गंभीर नहीं मानते हुए मर्ग दर्ज कर इतिश्रि कर दी।

लेकिन किसी ने भी पुलिस को घटना की क्या वजह रही? इसकी कोई जानकारी नहीं दी। इधर, पुलिस तीन जनों की मौत के बावजूद मामले को गंभीर नहीं मानते हुए मर्ग दर्ज कर इतिश्रि कर दी। पुलिस का कहना है कि विवाहिता का मानसिक संतुलन ठीक नहीं था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned