दर्ज मामले में पुलिस ने दी एफआर, बरामद 50 हजार की डीडी एक्सपायर!

- सूचना पाने के लिए जमा की थी 50 हजार की डीडी

By: भवानी सिंह

Published: 16 Oct 2020, 05:16 PM IST

बाड़मेर. रामसर पंचायत समिति की चाडी ग्राम पंचायत से सूचना के नाम पर जमा हुई 50 हजार डीडी पुलिस जांच में सरपंच के कब्जे से बरामद हुई। इसके बावजूद पुलिस ने जांच में यह तर्क दिया कि यह डीडी किसी की ओर से उठाई नहीं गई है, इसलिए मामला झूठा पाया गया। जबकि डीडी पोस्ट से प्राप्त होने के बाद सरपंच ने पैसा उठाने की बजाय यह डीडी दबा रखी थी। इस दौरान डीडी की अवधि समाप्त हो गई। अब पुलिस ने मामले में एफआर पेश करते हुए मामला न्यायालय में पेश किया। जबकि पीडि़त न्याय के लिए पुलिस के चक्कर लगा रहे है।


यह है पूरा मामला
चाडी निवासी पुखराज पुत्र उम्मेदाराम ने 2 जून 2020 को ई-मेल के जरिए रिपोर्ट पेश कर मामला दर्ज करवाया कि 18 जुलाई 2019 को सूचना के अधिकार के तहत ग्राम विकास अधिकारी (वीडियो) जगदीश विश्रोई व सरपंच अर्जुनराम सियाग से सूचना मांगी। इसके लिए 50 हजार रुपए की डीडी बनाकर स्पीड पोस्ट जरिए भेजी गई। विकास अधिकारी के अनुपस्थित होने पर सरपंच ने पोस्ट प्राप्त की। लेकिन डीडी का पैसा नहीं उठाया। आरोप के आधार पर सरपंच व ग्राम विकास अधिकारी एलडीसी सोमाराम के खिलाफ 50 हजार रुपए का गबन करने का मामला दर्ज हुआ।


---
- कार्रवाई नहीं हुई है।
सूचना पाने के लिए ग्राम पंचायत ने 50 हजार रुपए की डीडी मांगी थी। समय पर मैंने स्पीड पोस्ट से 50 हजार की डीडी बनाकर भेजी थी। उसको सरपंच ने प्राप्त किया। उसके बाद डीडी तय सीमा में उठाई नहीं गई। इसलिए मामला दर्ज करवाया था, लेकिन पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है। डीडी एक्सपायर हो गई है, अब जुर्माना लगेगा। इसमें मेरी क्या गलती है। - पुखराज, पीडि़त


- एफआर पेश कर दी
सरपंच के कब्जे से 50 हजार की डीडी मिली है। वह एक्सपायर हो गई थी। इसलिए पीडि़त डीडी बैंक से उठा सकता है। इसमें कोई अपराध नहीं हुआ। - हुकमाराम, थानाधिकारी, रामसर
---

भवानी सिंह Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned