राजस्थान हैरिटेज वीक: फैशन शो में बाड़मेर की आर्ट बनी स्टार, जानिए पूरी खबर

राजस्थान हैरिटेज वीक: प्रसिद्ध डिजाइनर ने फैशन शो में बाड़मेर की कला को किया प्रमोट

By: Ratan Singh Dave

Published: 11 Dec 2017, 07:41 PM IST

बाड़मेर पत्रिका. खूबसूरत कशीदाकारी लिबास से सजे-धजे मॉडल्स के रैम्प पर आते ही चारों तरफ तालियोंं की गूंज सुनाई दी। राजस्थान हैरिटेज वीक के तहत जयपुर में आयोजित ग्रांड फैशन शो में बाड़मेर की स्टाइलिश कशीदाकारी परिधानों के कलेक्शन को प्रस्तुत करने का प्रसिद्ध डिजाइनर हेमंत त्रिवादी का अंदाज सभी को अट्रेक्ट कर गया। डिजाइनर हेमंत की ओर से ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान बाड़मेर के सहयोग से प्रस्तुत किए गए कलेक्शन को देखकर हर कोई अचंभित था। हैरिटेज वीक के अंतिम दिन कई डिजाइनर्स की ओर से भी कलेक्शन प्रस्तुत किए गए। इनमें बाड़मेर का कलेक्शन सबसे खास था। इसमें हर एक मॉडल्स ने परिधान पर कशीदाकारी के अलग-अलग अंदाज को प्रस्तुत किया। हेमंत के साथ ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान की अध्यक्ष रुमा देवी और सचिव विक्रमसिंह भी रैम्प पर मॉडल्स के साथ नजर आए।

अलग है बाड़मेरी की आर्ट
डिजाइनर हेमंत ने बताया की उन्होंने कई प्रकार के कलेक्शन फेशन शो में प्रस्तुत किए हैं। जिसमें से बाड़मेर की कशीदाकारी का कलेक्शन सबसे अलग है। बाड़मेर की दस्तकार बहुत ही हुनरमंद है जो इतने सुंदर उत्पाद बनाती है। संस्थान अध्यक्ष रुमा ने बताया कि बाड़मेर की कशीदाकारी को आधुनिक स्टाइल के परिधानों के रूप में प्रजेंट करना काफी मेहनत का कार्य है। संस्थान की मास्टर ट्रेनर की ओर से डिजाइन, फेब्रिक व परिधान की स्टाइल का सलेक्शन किया जाता है। इसके बाद एक्सपर्ट महिला दस्तकार हाथ से कशीदाकारी का कार्य करती है। कशीदाकारी के लिए धागे तक का सलेक्शन भी काफी इंर्पोटेंट होता है। राजस्थान हैरिटेज वीक के तहत जयपुर में आयोजित ग्रांड फैशन शो में बाड़मेर की स्टाइलिश कशीदाकारी बहुत ही शानदार रही। बाड़मेर का कलेक्शन सबसे खास रहा , इस दौरान मॉडल्स ने अलग अलग अंदाज में इसे प्रस्तुत किया। उनका मानना है कि बाड़मेर की कशीदाकारी को मॉडर्न स्टाइल के कपड़ो. के रूप में प्रस्तुत करना ही बहुत मेहनत का काम है।

Ratan Singh Dave
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned