बाड़मेर. कृषि विज्ञान केन्द्र गुड़ामालानी की ओर से गांव डबोई में गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत द्वितीय कौशल प्रशिक्षण आयोजित किया गया। केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ. प्रदीप पगारिया ने बताया कि प्रशिक्षण का उद्देश्य लॉकडाउन के दौरान अन्य राज्यों या जिलों से आए प्रवासी मजदूर जो बेरोजगार हो गए हैं उन्हें कौशल प्रशिक्षण से अपने गृह जिले में ही रोजगार के उत्तम अवसर प्रदान करना है। अभियान को 6 राज्यों के 116 जिलों में 125 दिनों तक प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए मिशन मोड में चलाया गया है। उन्होंने कहा कि डेयरी उद्यमिता, बकरी एवं भेड़ पालन, मुर्गी पालन को तेजी से बढ़ावा देकर स्वरोजगार की ओर ज्यादा से ज्यादा प्रोत्साहित करना है जिससे कि जिले में बाहर से आए प्रवासियों को उनके कौशल के अनुसार रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। प्रशिक्षण प्रभारी डॉ. लखमा राम चौधरी ने बकरीपालन एवं मुर्गीपालन की तकनीकी एवं मॉडल की जानकारी दी। गंगाराम माली ने प्रवासी मजदूरों को मृदा की सरंचना एवं जल परीक्षण की तकनीक को समझाया। सरपंच हरिराम ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned