पांच सूत्री मांगों को लेकर छात्रशक्ति का विरोध प्रदर्शन,

सौंपा ज्ञापन

By: Dilip dave

Published: 10 Sep 2021, 12:28 AM IST

बाड़मेर. राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सम्बन्धित पांच सूत्री मांगों को लेकर गुरुवार को छात्र शक्ति के बैनर तले विद्यार्थियों ने जिला कलक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा और प्रदर्शन किया।

छात्रों को संबोधित करते हुए प्रवीणसिंह मीठडी व मुकेश डूडी ने कहा कि सरकार की ओर से फीस वसूली करना गलत है तथा इसे यह स्पष्ट होता है कि सरकार विद्यार्थियों के साथ अन्याय कर रही है। वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए सरकार को विद्यार्थियों के हित मे फैसला लेना चाहिए।

भूपेंद्र बेनीवाल ने कहा कि हिन्दी राष्ट्रभाषा है,बाड़मेर में एमए हिंदी विषय शुरू किया जाए।चम्पक जांगिड ने कहा कि हम लम्बे समय से मांग कर रहे हैं कि महाविद्यालय का जर्जर छात्रावास का पुन: निर्माण हो जिससे दूर दराज से आने वाले विद्यार्थियों को राहत मिले। लालसिह खारची ने कहा कि सरकार की ओर से विद्यार्थियों की आवाज दबाने का प्रयास गलत है।

भंवराराम मेघवाल ने कहा कि लम्बे समय से सरकार विद्यार्थियों की छात्रवृत्ति दबा कर बैठी है। समय रहते छात्रवृत्ति प्रदान करे अन्यथा विरोध झेलने को सरकार तैयार रहे।

देव शर्मा, गणेश डूडी, रमेश चौधरी, मोतीसिंह कितनोरिया, अजर खां, उगमसिंह, हेमंत कडवासरा आदि उपस्थित थे।

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned