तीन व्याख्याताओं के तबादले पर छात्रों ने जड़ा कॉलेज पर ताला

किया विरोध प्रदर्शन

- तबादले निरस्त करने की मांग

By: Dilip dave

Updated: 08 Oct 2021, 12:26 AM IST

बाड़मेर. राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय बाड़मेर के तीन व्याख्याताओ के स्थानांतरण के विरोध में छात्रों ने गुरुवार को महाविद्यालय के मुख्य द्वार पर ताले लगा विरोध प्रदर्शन कर धरना दिया। छात्रशक्ति ने चेतावनी दी कि जब तक स्थानांतरण निरस्त नहीं होंगे तब तक कॉलेज का मुख्य द्वार बंद रहेगा।

छात्र नेता प्रवीणसिंह मीठडी, मुकेश डूडी ने बताया कि महाविद्यालय में व्याख्याताओं के कई पद रिक्त हैं, जिनको भरने के लिए छात्र लम्बे समय से सरकार से मांग कर रहे हैं, लेकिन सरकार ने रिक्त पद भरने की जगह व्याख्याताओं के तबादले कर दिए। उन्होंने बताय कि हिंदी विषय के व्याख्याता नवलकिशोर गोदारा का नोखडा गुड़ामालानी, अंग्रेजी व्याख्याता ज्योति सिसोदिया का नोखडा बीकानेर व वनस्पति शास्त्र व्याख्याता नवीनकुमार का तबादल बालोतरा कर दिया। एेसे में विद्यार्थियों का भविष्य अंधकारमय नजर आने लगा है। छात्र भूपेन्द्र बेनीवाल ने बताया कि छात्रों की मांग है कि जिन व्याख्याताओं का स्थानांतरण किया गया, उनके तबादले निरस्त हो तथा रिक्त पद भरे जाए अन्यथा महाविद्यालय बन्द कर छात्र विरोध प्रदर्शन जारी रखेंगे।

गणेश डूडी, भंवर लाल मेघवाल, गोपालसिंह लखा, गौतम प्रजापत, समुन्द्रसिंह म्याजलार, प्रद्युम्न सिंह राजपुरोहित, दिपक डागला, विजय शर्मा, चेतन भाम्बू, प्रशांत खींची, रमेश चौधरी, जुजारसिंह, नरेश सेन, इस्लाम, प्रवीण कुमार, छगन, अभिषेक, पुखराज, जयपाल सहित कई छात्रों ने धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया।

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned