जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में गर्मागर्मी

-नाराज शिक्षकों ने डीईओ कार्यालय के बाहर किया प्रदर्शन

By: Moola Ram

Published: 24 Jul 2018, 10:11 AM IST

-नाराज शिक्षकों ने डीईओ कार्यालय के बाहर किया प्रदर्शन

बाड़मेर. स्थानीय जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय प्रारम्भिक में सोमवार को शिक्षकों व कार्यालय में कार्यरत बाबू के बीच गर्मागर्मी हो गई। इस दौरान कुछ शिक्षकों ने बीच बचाव करते हुए समझाइश कर मामला शांत करवाया।

शिक्षक संघ प्रगतिशील के जिलाध्यक्ष देरावरसिंह के नेतृत्व में डीईओ कार्यालय की समस्याओं को लेकर शिक्षक जिला शिक्षा अधिकारी से मिलने गए। जिला शिक्षा अधिकारी के नहीं होने पर वे अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी के कक्ष में चले गए। एडीओ से चल रही वार्ता के दौरान कार्यालय के एक बाबू ने शिक्षकों को बाहर निकलने का कहते हुए कहा कि 4-5 शिक्षक अंदर आएं। इस पर गर्मागर्मी हो गई और शिक्षक भड़क गए।

आक्रोशित शिक्षकों ने अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी व विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान एडीओ व बाहर प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों के साथ भी तू-तू मैं-मैं हुई। लगभग एक घंटे तक चले हंगामे के बाद शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल व एडीओ के बीच वार्ता हुई। दोनों पक्षों में समझौता होने के बाद मामला शांत हुआ।

शिक्षकों का धरना, कलक्टर को ज्ञापन

बाड़मेर . राजस्थान शिक्षक संघ प्रगतिशील के शिक्षकों ने सोमवार को शिक्षकों की समस्याओं को लेकर महावीर पार्क के सामने एक दिवसीय धरना दिया। जिला प्रवक्ता मोहनसिंह माचरा ने बताया कि धरने के बाद जिला कलक्टर के मार्फत मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

धरने को सम्बोधित करते हुए जिलामन्त्री गोरधनराम प्रजापत ने कहा कि शिक्षक समस्याओं का समाधान नहीं होने पर हड़ताल की जाएगी। प्रदेशमन्त्री रूकमणाराम सियाग ने कहा कि सरकार की अंशदायी पेंशन योजना कर्मचारियों के साथ अन्याय है। जिला कलक्टर के मार्फत मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

धरने को जयराम पंवार, जोगाराम सोनी, वीरमाराम, बांकाराम सांजटा, रूपसिंह जाखड़ सहित कई शिक्षक नेताओं ने सम्बोधित किया। इसके बाद नारेबाजी करते हुए कोषाध्यक्ष चतराराम सियाग व जिलाध्यक्ष देरावरसिंह के नेतृत्व में जिला कलक्टर को 21 सूत्री मांग पत्र सौंपा।

Moola Ram
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned