कोटड़ा में समस्याओं का अम्बार, बच्चों को नहीं पढऩे की छत, पशुधन को नहीं मिलता इलाज

- शिव उपखंड की बड़ी ग्राम पंचायत में सड़कें भी क्षतिग्रस्त

By: Dilip dave

Published: 19 Mar 2021, 12:19 AM IST



शिव बाड़मेर. शिव उपखंड मुख्यालय से दस किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत कोटडा स्थित है। जहां पहुंचने के लिए सड़क मार्ग पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त है । जगह -जगह पर गड्ढे होने के कारण वाहन चालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। ग्राम पंचायत मुख्यालय पर शिक्षा विभाग का उच्च माध्यमिक विद्यालय संचालित हो रहा है जिसमें पर्याप्त कक्षा कक्ष नहीं होने से अधिकांश कक्षाएं पेड़ो के नीचे शिक्षण कार्य करते हैं ।

वही विद्यालय के कई पद पिछले कई वर्षों से रिक्त चल रहे हैं। ग्राम पंचायत मुख्यालय पर उप स्वास्थ्य केंद्र के साथ पशु चिकित्सा और स्वास्थ्य केंद्र भी स्वीकृत है जिस में भी पद रिक्त होने के कारण ग्रामीणों को चिकित्सा सुविधा मुहैया नहीं हो रही है। ग्राम पंचायत के विभिन्न गांव को जोडऩे वाली ग्रामीण सड़कें भी क्षतिग्रस्त है, जिससे ग्राम पंचायत मुख्यालय पहुंचने के लिए ग्रामीणों को परेशानी हो रही है। ग्राम पंचायत के राजस्व गांव कोटडा, जालेला, रामपुरा सहित कई गांवों में में नियमित जलापूर्ति नहीं होने से ग्रामीणों के साथ पशुधन को प्यास बुझाने के लिए कोई परेशानी हो रही है।ग्राम पंचायत की ओर से प्रतिवर्ष लाखों की राशि खचज़् की जा रही है लेकिन ग्रामीणों की मुख्य समस्याएं जस की तस है । ग्राम पंचायत के अधिकांश लोग ढाणियों में निवास करते हैं ।

वही रोजगार का मुख्य साधन कृषि व पशुपालन ही है क्षेत्र में अकाल की स्थिति होने के कारण ग्रामीणों व पशुपालकों के सामने अपने पशुधन को बचाने के साथ रोजगार की समस्या उत्पन्न हो गई है।

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned