जमने लगी तिलवाड़ा पशु मेला की रंगत, हजारों पशु पहुंचे

सुबह-शाम मेला देखने उमड़ते हैं मेलार्थी

By: Dilip dave

Published: 09 Apr 2021, 12:57 AM IST


बालोतरा. तिलवाड़ा पशु मेले में बड़ी संख्या में दुकानें लगने व पशुओं के आने पर अब मेले की रंगत जमी हुई नजर आ रही है। मेला भरने के समाचार सुनकर जिले के गांव -गांव व आस पास के जिलों से हर दिन बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। सुबह- शाम मेलार्थी बड़ी संख्या में पहुंचते हैं।
विभिन्न जिलों व प्रांतों से पहुंचे पशु व्यापारी इन दिनों मोल भाव कर रहे हैं। शीघ्र ही पशुओं की बिक्री शुरू होगी। मेले में गुरुवार शाम तक १६१६ घोड़े, ४०० ऊंट, ६० गोवंश पहुंचा। मेले में अब तक २ हजार ७६ पशु पहुंच चुके हैं।


शुक्रिया राजस्थान पत्रिका.....
बाड़मेर.
तिलवाड़ा पशुमेला आयोजन को लेकर प्रशासन के मनाही के बाद पत्रिका के अभियान और प्रधान संपादक डा. गुलाब कोठारी के अग्रलेख सिरमौर तिलवाड़ा पशुमेला के बाद राज्य सरकार पत्रिका के पाठकों की ताकत के आगे झुकी और ९ मार्च को पशुमेला आयोजित करने की अनुमति दी। ७ अप्रेल को तिलवाड़ा पशुमेला प्रारंभ हुआ तो गुरुवार को इंटेक चेप्टर और हर्ट बाड़मेर की ओर से तिलवाड़ा पशुमेले में राजस्थान पत्रिका के हस्ताक्षर अभियान के बैनर लगाकर पत्रिका का शुक्रिया अदा किया गया। यहां पहुंचे मेलार्थियों ने बैनर पर हस्ताक्षकर राजस्थान पत्रिका का आभार जताया। इंटेक चेप्टर के कन्वीनर रावल किशनसिंह जसोल ने कहा कि डा. कोठारी के अग्रलेख और पत्रिका के समाचार अभियान के कारण ही यह मेला पुन: प्रारंभ हुआ है, इसके लिए सदा शुक्रगुजार रहेंगे।

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned