अब तो जागो या पांचवीं मौत का इंतजार !

- 21 दिन में दो हादसे, तीन स्कूली छात्र व एक युवक की जा चुकी जान

- जिम्मेदार नहीं कर रहे प्रभावी कार्रवाई, बजरी माफिया का हौसला बुलंद

By: Mahendra Trivedi

Published: 07 Mar 2020, 05:11 PM IST

बाड़मेर. बजरी खनन व परिवहन पर रोक के बाद पुलिस, परिवहन व खनन विभाग की मिलीभगत कहें या मेहरबानी से पनपा बजरी माफिया आमजन के जान के लिए आफत बना हुआ है। बाड़मेर जिले में अवैध बजरी परिवहन में लगे अनियंत्रित डंपर खनन विभाग की कार्रवाई के डर या जल्दबाजी के चक्कर में सड़क मार्ग पर लोगों को कुचल रहे हैं।

एक माह पहले गुड़ामालानी क्षेत्र में अवैध बजरी में लिप्त तेजगति डंपर ने तीन स्कूली विद्यार्थियों को कुचल दिया था। इसके बावजूद बजरी से भरे वाहनों की रफ्तार पर अंकुश नहीं लग पा रहा है।

रतेरू में फिर गुरुवार को अवैध बजरी से भरे डंपर ने युवक को कुचल दिया। महज 21 दिन में डम्पर से हुए दो हादसों में 4 जनों की जान चली गई।

फल-फूल रहा अवैध खनन

पत्थर-बजरी खनन माफिया में रसूख वाले लोग शामिल हैं। इसके चलते पुलिस अधिकारी भी कार्रवाई करने में औपचारिकता ही निभाते है। इसके कारण अवैध खनन का कारोबार फल-फूल रहा है। सड़कों पर बेलगाम दौड़ रहे डम्परों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।

इतना ही नहीं अवैध खनन के काले कारोबार में शामिल डम्परों के मालिकों पर पुलिस और खनन विभाग भी हाथ डालने से कतराते हैं। इसके कारण खनन माफिया पनप रहा है।

बाड़मेर में यहां होता है अवैध खनन

बजरी का अवैध खनन सबसे अधिक लूणी नदी क्षेत्र में हो रहा है। इसके अलावा बालोतरा, सिणधरी, गुड़ामालानी, रागेश्वरी, पचपदरा क्षेत्र में अवैध बजरी खनन चलता है।

अवैध बजरी से भरे डम्पर शॉटकर्ट रास्तों पर बेलगाम दौड़ते हैं। जानकार बताते हैं कि कार्रवाई की टीम की भनक लगने पर बजरी में लिप्त डंपर तेजगति से दौड़ते हुए शॉटकर्ट रास्तों से निकल जाते है।

केस 1

गिड़ा थाना क्षेत्र के गुरुवार को अवैध बजरी से भरे डंपर ने सड़क किनारे बस के इंतजार में खड़े युवक को चपेट में लिया। हादसें में एक जने की मौके पर मौत हो गई। जिम्मेदार पुलिस ने कार्रवाई की बजाय मामले पर पर्दा डाल दिया।

केस 2

गुड़ामालानी-धोरीमन्ना मार्ग पर बुधवार को स्कूली बच्चों को डाबल गांव के पास तेज रफ्तार डम्पर ने कुचल दिया। हादसे में तीन की मौत हो गई और तीन बच्चेे गंभीर अवस्था में है। यह डम्पर बजरी भरने जा रहा था।

केस 3

शिव थाना क्षेत्र के जैसलमेर रोड पर 13 अगस्त 2019 की रात अनियंत्रित डंपर ने टै्रक्टर पर सवार लोगों को कुचला। हादसे में एक ही परिवार के तीन जनों की मौके पर दर्दनाक मौत हुई। दो गंभीर घायल 4 माह तक अस्पताल में भर्ती रहे।

केस 4

गिड़ा थाना क्षेत्र के मलवा गोयलन फांटे के पास 17 दिसंबर 2019 को पैदल चल रहे युवक को डंपर ने कुचल दिया। हादसे में दर्दनाक मौत हो गई।

केस 5

बालोतरा थाना क्षेत्र के मेगा हाईवे पर गत 2 फरवरी को जल्दबाजी के चक्कर में डंपर ने ट्रेलर को टक्कर मारी। हादसे में तीन जने गंभीर घायल हो गए। तीनों का उपचार चल रहा है।

- एक कमेटी बनी है, प्रभावी कार्रवाई करेंगे

अवैध बजरी खनन की रोकथाम के लिए जिला कलक्टर के निर्देशानुसार एक कमेटी का भी गठन हुआ है। तेजगति व लापरवाही पूवर्क चलने वाले डंपर के खिलाफ पुलिस भी प्रभावी कार्रवाई कर मामला दर्ज करेगी। साथ ही पुलिस, खनन व परिवहन विभाग समन्वय बनाकर कार्रवाई करेगा।

- खींवसिंह भाटी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, बाड़मेर

Show More
Mahendra Trivedi Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned