हमारा कैंडिडेट कौन हो

हमारा कैंडिडेट कौन हो

Dileep Kumar Dave | Publish: Oct, 13 2018 11:13:40 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 11:13:41 PM (IST) Barmer, Rajasthan, India

विधानसभा क्षेत्र .शिव



संभावित उम्मीदवार. तनेराजसिंह गहलोत

राजनीतिक पार्टी भाजपा

जाने इनके बारे में- भाजपा से विधानसभा चुनाव 2018 को लेकर टिकट की दावेदारी जता हरे तनेराजसिंह गहलोत युवा है। पत्रकारिता से लम्बे समय तक जुड़े रहे गहलोत पिछले चार-साढ़े चार साल से राजनीति में सक्रिय है। वे वर्तमान में भाजपा के जिला प्रवक्ता के रूप में सेवाएं दे रहे हैं। बाड़मेर में रहने वाले गहलोत भाजपा के वर्तमान सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी के करीबी माने जाते हैं। भाजपा के वर्तमान विधायक कर्नल मानवेन्द्रसिंह के भाजपा छोडऩे की घोषणा और पूर्व विधायक डॉ.जालमसिंह रावलोत के जैसलमेर में सक्रिय होने के बाद शिव की सीट पर दावेदारों की सूची लम्बी हो रही है। इस सूची मे गहलोत का नाम भी है। वे पिछले कुछ समय से प्रचार-प्रसार में जुटे हुए हैं।
विजन.....तनेराजसिंह गहलोत के अनुसार बाड़मेर-जैसलमेर हाईवे पर शिव मुख्यालय पर ओवर ब्रिज की महत्ती आवश्यकता है। एेसे में यहां ओवर ब्रिज बनाकर कस्बे की यातायात व्यवस्था को सुचारू करवाना प्राथमिकता रहेगी। क्षेत्र को बार-बार अकाल की मार सहनी पड़ रही है। एेसे में इस समस्या का स्थायी समाधान करने का प्रयास रहेगा। गोवंश के संरक्षण के लिए रामसर, गडरारोड व शिव में डेयरी प्लांट खुलवाने की जरूरत है। इससे पशुपालन को बढ़ावा मिलेगा तो अकाल प्रभावित क्षेत्र में रोजगार भी बढेगा और पशुधन का संरक्षण मिलेगा। विधानसभा क्षेत्र के अंतिम छोर तक नहरी पानी पहुंचाना और डीएनपी क्षेत्र के गांवों में मूलभूत सुविधाओं का विकास करना भी जरूरी है। इन गांवों में बिजली, पानी, सड़क जैसी सुविधाएं मिलनी चाहिए। हर वर्ग की बालिकाओं को बेहतरीन शिक्षा प्रदान करने के लिए बालिका छात्रावास की व्यवस्था, बालिका विद्यालयों की तादाद बढ़ाना, पर्यटन क्षेत्र में विपुल संभावनाओं को देखते हुए विधानसभा क्षेत्र के पुरातात्विक क्षेत्र को विकसित कर पर्यटन को बढ़ावा दिलवाना, किसानों को बिना ब्याज फसली ऋण उपलब्ध करवाना, किसानों को चौबीस घंटे बिजली मिले और किसान का जीवन स्तर ऊंचा उठे, इसको लेकर विजन तैयार किया जाएगा। साथ ही स्वास्थ्य, शिक्षा और हस्तशिल्प के प्रोत्साहन को लेकर विशेष योजना बनाने की जरूरत रहेगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned