बैलगाड़ी सहित बहे दंपती, पति की जान बची, 18 घंटे बाद मिला पत्नी का शव

बड़वानी जिला मुख्यालय के समीप भीलखेड़ा बसाहट में रविवार शाम खेत में काम निपटाकर लौट रहे पति-पत्नी तेज बारिश में नाले की रपट में बैलगाड़ी सहित बह गया। चलीस वर्षीय पति जसवंत ने किसी तरह झाडिय़ां पकडकऱ जान बचाई वहीं उसकी पत्नी तेज बहाव पानी में बह गई। बैलगाड़ी भी पुलिया के नीचे फ स गई, जिससे बैल भी बाहर निकल आए। लेकिन जसवंत की पत्नी पार्वती बाई का शव घटना के 18 घंटे बाद सोमवार दोपहर करीब एक बजे राजघाट रोड पर नाले में मिला।

By: riyaz sagar

Published: 01 Jul 2019, 08:45 PM IST

बैलगाड़ी सहित बहे दंपती, पति की जान बची, 18 घंटे बाद मिला पत्नी का शव

बड़वानी जिला मुख्यालय के समीप भीलखेड़ा बसाहट में रविवार शाम खेत में काम निपटाकर लौट रहे पति-पत्नी तेज बारिश में नाले की रपट में बैलगाड़ी सहित बह गया। चलीस वर्षीय पति जसवंत ने किसी तरह झाडिय़ां पकडकऱ जान बचाई वहीं उसकी पत्नी तेज बहाव पानी में बह गई। बैलगाड़ी भी पुलिया के नीचे फ स गई, जिससे बैल भी बाहर निकल आए। लेकिन जसवंत की पत्नी पार्वती बाई का शव घटना के 18 घंटे बाद सोमवार दोपहर करीब एक बजे राजघाट रोड पर नाले में मिला।

बड़वानी जिला मुख्यालय के समीप भीलखेड़ा बसाहट में रविवार शाम खेत में काम निपटाकर लौट रहे पति-पत्नी तेज बारिश में नाले की रपट में बैलगाड़ी सहित बह गया। चलीस वर्षीय पति जसवंत ने किसी तरह झाडिय़ां पकडकऱ जान बचाई वहीं उसकी पत्नी तेज बहाव पानी में बह गई। बैलगाड़ी भी पुलिया के नीचे फ स गई, जिससे बैल भी बाहर निकल आए। लेकिन जसवंत की पत्नी पार्वती बाई का शव घटना के 18 घंटे बाद सोमवार दोपहर करीब एक बजे राजघाट रोड पर नाले में मिला।

riyaz sagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned