लोन नहीं चुकाया तो बैंक ने सील किया इंस्टीट्यूट

17 नवंबर से प्रेक्टिकल, 5 दिसंबर से होना है वार्षिक परीक्षा, विद्यार्थियों ने कलेक्टोरेट पहुंचकर लगाई गुहार, इंस्टीट्यूट शुरू करने की मांग

ऑनलाइन खबर : विशाल यादव
बड़वानी. ठीकरी क्षेत्र के गांव केरवा में स्थित बालाजी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी के डायरेक्टर द्वारा लिए गए लोन को नहीं चुकाने पर संबंधित बैंक ने कॉलेज को सील कर दिया है। जिससे यहां अध्ययनरत् विद्यार्थियों की परेशानियां बढ़ गई है। कॉलेज में अध्ययनरत् विद्यार्थियों की अंतिम वर्ष की प्रेक्टिकल परीक्षाएं 3 दिन बाद और लिखित परीक्षाएं आगामी माह में होना है।
कलेक्टोरेट पहुंचे विद्यार्थी
मामले में निराकरण की मांग को लेकर करीब 40 विद्यार्थी बुधवार दोपहर कलेक्टोरेट पहुंचे। यहां डिप्टी कलेक्टर अंशु जावला को ज्ञापन सौंप वैकल्पिक निराकरण की मांग की। जिस पर डिप्टी कलेक्टर ने उच्च अधिकारियों को मामले से अवगत कराते हुए निराकरण का आश्वासन दिया। जबकि विद्यार्थी लिखित आश्वासन की मांग को लेकर शाम 5 बजे तक कलेक्टोरेट में मौजूद रहे। ज्ञापन में विद्यार्थियों ने बताया कि किसी ने वर्ष 2014 व 15 में प्रवेश लेने वालों की अंतिम वर्ष की परीक्षाएं शुरु होने वाली है। 17 से 30 नवंबर तक प्रेक्टिकल परीक्षाएं व 5 से 24 दिसंबर तक लिखित परीक्षा होगी। ऐसे में कॉलेज सील होने से उनको परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अगर कॉलेज नहीं खुलता हैं तो परीक्षा के लिए अन्यंत्र जाना पड़ेगा। जिससे आर्थिक व मानिसक परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। विद्यार्थियों के अनुसार गत माह 27 अक्टूबर को कॉलेज को सील करने की कार्रवाई हुई थी। जबकि वर्ष 2015 के बाद से कॉलेज में प्रवेश देना बंद कर दिया था।
जल्द निराकरण कराएंगे
कॉलेज के डायरेक्टर द्वारा बैंक से लोन लिया था, जो नहीं चुकाने की स्थिति में बैंक द्वारा सील किया गया है। विद्यार्थियों ने परीक्षा संबंधित समस्या बताई है। उच्च अधिकारियों को अवगत कराते हुए जल्द वैकल्पिक निराकरण का प्रयास किया जाएगा।
-अंशु जावला(डिप्टी कलेक्टर)

मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned