प्रशासन ने नहीं बदला स्कूल का समय

ठंड में स्कूल जाने को मजबूर बच्चे, प्रशासन ने नहीं बदला स्कूलों का समय, आसपास के जिलों में स्कूलों का समय बढ़ा

खबर लेखन : मनीष अरोरा
ऑनलाइन खबर : विशाल यादव
बड़वानी. मौसम के बदलाव के बाद शुरू हुए सर्द हवाओं के दौर में भी नौनिहाल ठिठुरते हुए स्कूल जाने को मजबूर हैं। तापमान में आई गिरावट के बाद भी बच्चों के स्कूल लगने के समय में प्रशासन स्तर से कोई बदलवा नहीं किया गया है। इस वजह से बच्चे परेशानियां झेलते हुए स्कूल जा रहे हैं। बच्चों की समस्याओं की ओर जिम्मेदारों का ध्यान नहीं जा रहा है। बच्चों को सर्द हवाओं के बीच ऐसी ही कड़ाके की सर्दी में स्कूल जाना पड़ रहा है। लिहाफ में लिपटे बच्चे ठंड में कंपकंपाते हुए भारीभरकम स्कूल बैग लेकर स्कूल जा रहे हैं। सोमवार को शहर का न्यूनतम तापमान लुढ़ककर 13.4 डिसे तक जा पहुंचा। ऐसे में बच्चों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बीते पांच दिनों के तापमान की बात करें तो सोमवार को न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई हैै। इसके कारण ठंड का प्रकोप बढ़ा है। रविवार को अधिकतम तापमान 30 डिग्री और न्यूनतम तापमान 13.7 डिग्री सेल्सियस था।
अन्य जिलों में बदला स्कूलों का समय
दो दिन से आई तापमान में गिरावट के कारण बड़वानी जिले लगे जिलों में स्कूल लगने के समय में परिवर्तन कर दिया है। अन्य जिलों में स्कूलों के समय में तो परिवर्तन हो गया है, लेकिन बड़वानी में अभी तक जिम्मेदारों का ध्यान इस ओर नहीं गया है। इससे बच्चों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।
शीत लहर से कांपा अंचल
कृषि-मौसम पूर्वानुमान के अनुसार डॉ. डीके तिवारी ने बताया कि ठंड के साथ शीत लहर का प्रकोप रहेगा। जो मकर संक्राति तक जारी रहने की संभावना है। इसके अलावा रात का तापमान में एक-दो डिग्री गिरने की सं ाावना है। वहीं मप्र के कुछ हिस्सों में बूंदाबांदी हो सकती है। शीत लहर के चलते अंचल में ठंड का असर बढ़ गया है।
वर्जन...
ठंड के चलते बच्चों के स्कूल लगने के समय में जल्द ही परिवर्तन किया जाएगा।
-अमित तोमर, कलेक्टर

मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned