लेग स्पिन गेंदबाजी में दिव्यांग खिलाड़ी जितेंद्र वाघ ने प्रदेश टीम में बनाया स्थान

दिव्यांग टीम के अहम सदस्य बने जितेंद्र, मध्यप्रदेश की दिव्यांग क्रिकेट टीम में प्राप्त किया खिताब

By: vishal yadav

Published: 03 Dec 2019, 03:34 PM IST

बड़वानी. ग्राम मोरतलाई के दिव्यांग क्रिकेट खिलाड़ी जितेंद्र वाघ अपनी लेग स्पिन गेंदबाजी के दम पर मप्र की दिव्यांग क्रिकेट टीम के अहम सदस्य बन गए है। प्रदेश की दिव्यांग टीम ने हाल ही में चंडीगढ़ में खेले गए क्रिकेट टूर्नामेंट में बेहतरीन गेंदबाजी की। उनके प्रदर्शन के कारण प्रदेश की टीम ने खिताब जीता
जितेंद्र को बचपन से क्रिकेट खेलने का बहुत शौक था, लेकिन गांव में क्रिकेट खेलने के लिए पर्याप्त साधन नहीं थे और ऊपर से एक हाथ से दिव्यांग होना एक बड़ी चुनौती थी, लेकिन बुलंद हौसलों के कारण इन्होंने ठान लिया कि मुझे कर दिखाना है और उन्होंने कड़ी मेहनत करना प्रारंभ कर दी वे कहते है ना मेहनत का फल मीठा होता है। जितेंद्र वाघ ने थोड़े दिन बाद दिव्यांगों की मध्यप्रदेश की दिव्यांग टीम के चयन के लिए भोपाल में चयन प्रक्रिया का आयोजन हुआ। जिसकी सूचना सामाजिक कार्यकर्ता के माध्यम से प्राप्त हुई। पर आर्थिक परेशानी से उस समय इनके पास भोपाल जाने के लिए पैसे नहीं थे। फिर इन्होंने ये बात अपने दोस्तों को बताई वो कहते है ना दोस्त भगवान के फरिस्ते होते है। उन्होंने इनकी मदद की। जितेंद्र ने भी उनसे वादा किया कि वे मप्र टीम में चयनित होकर ही आएंगा।
जितेंद्र की टीम का प्रदर्शन रहा अच्छा
फिर जितेंद्र भोपाल पहुंचकर चयन प्रक्रिया में भाग लिया। अपनी लेगस्पिन गेंदबाजी से चयनकर्ताओं को अचंभित कर दिया। इस तरह इनका मप्र की दिव्यांग क्रिकेट टीम में स्थान सुनिश्चित हुआ। उसके बाद जितेंद्र की टीम नेशनल खेलने हैदराबाद गई। वहां जितेंद्र और इनकी टीम का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा। जितेंद्र ने फाइनल में उत्तरप्रदेश को हराकर खिताब प्राप्त किया। उसके बाद इन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और इन्होंने मप्र के लिए हैदराबाद, मुंबई, औरंगाबाद, जयपुर और अभी हाल ही में चंडीगढ़ में खिताब प्राप्त किया।

vishal yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned