मौसम विभाग का अलर्ट, क्षेत्र में भारी बारिश की चेतावनी, प्रशासन हुआ सतर्क

मौसम विभाग का अलर्ट, क्षेत्र में भारी बारिश की चेतावनी, प्रशासन हुआ सतर्क
Meteorological department alert

Manish Arora | Updated: 04 Aug 2019, 12:06:30 PM (IST) Barwani, Barwani, Madhya Pradesh, India

नर्मदा का जल स्तर पहुंचा 123.500 खतरे के निशान से एक मीटर नीचे, एसडीएम ने किया डूब क्षेत्र का निरीक्षण, एनडीआरएफ की टीम भी पहुंची

बड़वानी. मौसम विभाग द्वारा प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। बड़वानी में भी 7 अगस्त तक तेज बारिश की संभावना जताई जा रही है। मौसम विभाग की चेतावनी और नर्मदा के बढ़ते जल स्तर को लेकर प्रशासन भी सतर्क हो गया है। बाढ़ संभावित क्षेत्रों में आपदा प्रबंधन के इंतजाम कर दिए गए है। वहीं, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ का बल भी जिले में आमद दे चुका है। शनिवार को नर्मदा का जल स्तर 123.500 मीटर पर पहुंच गया। जिसके बाद एसडीएम ने राजघाट का जायजा लिया।
पश्चिमी मप्र में बारिश की चेतावनी को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा लगातार सतर्कता बरती जा रही है। शनिवार को एसडीएम अभयसिंह ओहरिया और पुनर्वास अधिकारी जानकी यादव ने राजघाट पहुंचकर बढ़ते जल स्तर का जायजा लिया। एसडीएम ने बताया कि फिलहाल राजघाट का जलस्तर खतरे के निशान से एक मीटर करीब नीचे है। जलस्तर बढ़ते ही राजघाट स्थित पुल पर से आवागम बंद कर दिया जाएगा। वहीं, घाट के आसपास रहने वालों को भी चेतावनी दी गई है कि वे सतर्कता बरते और पानी बढ़ते ही घाट को छोड़कर दूर चले जाए। उल्लेखनीय है कि नर्मदा का जल स्तर लगातार बढ़ रहा है। शनिवार सुबह जलस्तर 122.150 था जो दोपहर में 122.250 मीटर हो गया। शाम 6 बजे जलस्तर बढ़कर 122.350 मीटर पर पहुंच गया था।
एनडीआरएफ की टीम ने संभाला मोर्चा
नर्मदा के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए प्रशासन द्वारा एनडीआरएफ और एसडीआरएफ का बल भी जिले में बुलवा लिया गया है। एनडीआरएफ के दल में 30 और एसडीआरएफ में 8 जवान शामिल है। इसके साथ ही होमगार्ड के जवानों, गोताखोरों को भी अलर्ट कर ड्यूटी लगा दी गई है। एसडीएम अभयसिंह ओहरिया ने बताया कि डूब गांवों में अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही एनडीआरएफ का बल भी लगा दिया गया है। डूब प्रभावित गांवों में पानी बढऩे पर वहां मौजूद लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने की व्यवस्था भी कर दी गई है।
आज हो सकती है तेज बारिश
मौसम विभाग द्वारा जिले में 3 अगस्त से लेकर 7 अगस्त तक तेज बारिश की संभावना जताई गई है। कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ. डीके तिवारी ने बताया कि रविवार 4 अगस्त को सबसे ज्यादा बारिश होने की संभावना है। हालांकि शनिवार को जिले में कई स्थानों पर रिमझिम बारिश दर्ज की गई। दिनभर आसमान पर काले बादल छाए रहे। डॉ. तिवारी ने बताया कि गुजरात में बन रहे मानसून के सिस्टम से जिले में भी बादल छाए हुए है। गुजरात से लगे जिले के पानसेमल और निवाली क्षेत्र में जोरदार बारिश हो सकती है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned