नर्मदा जलस्तर में गिरावट... धीरे-धीरे खुलने लगा है बैक वाटर से जलमग्न राजघाट किनारा

चार माह के बाद नजर आई राजघाट पहुंच मार्ग की पहली रपट, ठंड में कम होने लगा नर्मदा का जलस्तर

By: vishal yadav

Published: 29 Dec 2020, 11:44 AM IST

बड़वानी. सरदार सरोवर बांध परियोजना के बैकवाटर से जलमग्न राजघाट किनारा धीरे-धीरे अब खुलने लगा है। नर्मदा नदी के जलस्तर में गिरावट आने से करीब आधा किमी मार्ग खुल गया है। वहीं बड़वानी से राजघाट की ओर बनी पहली रपट चार माह बाद नजर आई। उल्लेखनीय है कि अगस्त माह में नर्मदा का जलस्तर बढऩे का सिलसिला शुरु हुआ था। 15 अगस्त को राजघाट टापू बन गया था। वहीं 31 अगस्त को बड़वानी से राजघाट रोड पर ईंट भट्टों तक बेकवाटर आने से पहली रपट डूब गई थी। बीते 4 माह से जलस्तर रपट के ऊपर स्थिति बना हुआ था। बता दें कि इस बार बांध को पूर्ण क्षमता से भरने के बाद राजघाट में नर्मदा का जलस्तर 138 मीटर तक पहुंचा था। फिलहाल राजघाट गांव जलमग्न है। वहीं प्राचीन दत्त मंदिर छत लेवल तक डूब हुआ है।

ये भी पढ़े... ठंड को देखते हुए बेहसारा बच्चों को बाटेंगे गर्म कपड़े
जिले में पड़ रही कड़ाके की ठंड को देखते हुए स्वयं सेवी संस्थाओं व अधिकारियों के सहयोग से एकत्रित या खरीदे गए गर्म ऊनी कपड़ों का वितरण गरीब और बेहसारा बच्चों को करवाया जाए जिससे मिशन उम्मीद के लक्ष्यों को प्राप्त किया जा सके। कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा की अध्यक्षता व पुलिस अधीक्षक निमिष अग्रवाल, जिला श्रम पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला स्वास्थ्य अधिकारी, बाल कल्याण समिति अध्यक्ष, सदस्य और गैर शासकीय संस्थाओं के प्रतिनिधि, चाइल्ड लाइन प्रमुख, समेकित बाल संरक्षण योजना के विभागीय अमले की उपस्थिति में मिशन उम्मीद की बैठक सम्पन्न हुई। कलेक्टर ने बताया कि जिले में कड़ाके की ठंड पडऩे से गरीब और बेसहारा बच्चों को वूलन स्वेटर, जैकेट बांटने का कार्य प्रारंभ किया जाए। जिससे इन नौनिहालों को ठंड से बचाया जा सके। इसी प्रकार जिले में नवाचार के तहत चल रहे मिशन उम्मीद में लोगों को अस्पताल में डिलीवरी, गर्भवती महिलाओं की समय से सभी जांचें, टीकाकारण आदि कार्यों में अपना योगदान देने के लिए सभी सामाजिक संगठनो के पदाधिकारियों का भी सहयोग लिया जाए। जिससे यह कार्य सतत प्रारंभ रहे। बैठक में लायंस क्लब के राम जाट व अशाग्राम ट्रस्ट के एसएन यादव ने भी कलेक्टर की इस पहल की सराहना की।

Show More
vishal yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned