नई पाइप लाइन फूटी, पुरानी को केबल कंपनी ने फोड़ा

पाटी नाका क्षेत्र में आधे घंटे में बहा हजारों लीटर पानी, जलसंकट की आशंका फिर भी नहीं चेत रहा नपा अमला

By: मनीष अरोड़ा

Published: 26 Jan 2018, 12:27 PM IST

बड़वानी. जहां एक ओर नर्मदा के कम होते जलस्तर और गिरते भू-जलस्तर से गर्मियों में जलसंकट के आसार गहराने लगे है। वहीं, दूसरी ओर नपा की लापरवाही से भी जलसंकट की स्थिति बन रही है। बुधवार रात दो स्थानों से पेयजल वितरण की पाइप लाइन फूट गई।नर्मदा जल योजना की नई पाइप लाइन पानी के दबाव से फूटी और पुरानी पाइप लाइन को निजी केबल कंपनी के मजदूरों ने खुदाई के समय फोड़ दिया।दोनों पाइप लाइन फूटने से हजारों लीटर पानी बह निकला।

योगमाया मंदिर तक बह निकला पानी
बुधवार रात 8 बजे पाटी नाका क्षेत्र में पानी के दबाव से नई पाइप लाइन फूट गई। जिसके बाद पाटी नाका से लेकर योगमाया मंदिर तक पानी बह निकला। यहां करीब आधा घंटा पानी बहता रहा। शिकायत के बाद नगर पालिका ने पेयजल सप्लाई रुकवाई। इसके पूर्व पाटी नाका क्षेत्र में ही खुदाई कर रहे एक निजी कंपनी के मजदूरों ने पुरानी पाइप लाइन फोड़ दी। उधर आनंद नगर क्षेत्र में भी निजी कंपनी के मजदूरों की खुदाई से पाइप लाइन फूटते-फूटते बची। दोनों जगह लोगों ने खुदाई का विरोध किया और काम रुकवाया।

ये भी पढ़े :
क्राइम खबरें...
बीमारी से तंग युवक ने फंदे पर झूल की आत्महत्या
जुलवानिया. बीमारी की वजह से डिप्रेशन में आकर युवक ने आत्मघाती कदम उठाते हुए अपने ही घर रस्सी के फंदे पर झूल आत्महत्या कर अपनी जीवनलीला समाप्त की। एसआई नेपालसिंह चौहान ने बताया कि नगर के गवली मोहल्ले में युवक दिलीप पिता मांगीलाल निगाल (35) ने अपने ही घर पर फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली। मृतक के पिता ने बताया कि दिलीप करीब एक साल से टीबी की बीमारी से पीडि़त था तथा उसका इंदौर अस्पताल में इलाज भी चल रहा था। बीमारी के कारण कहीं आना जाना भी बंद कर दिया था। डिप्रेशन में आकर अकेला रहता था। मंै सुबह खेत पर गया था। घर दिलीप के अलावा कोई नहीं था। करीब 12.40 बजे खेत से आने पर मुझे दिलीप फंदे पर लटका दिखा। पुलिस ने मौके पर पहुंच पंचनामा बनाया तथा मृतक के पिता की सूचना पर मर्ग कायम कर शव पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंपा।

ट्रक ने दो बाइक को कुचला
ओझर. जुलवानिया रोड स्थित एटीएम के सामने खड़ी दो बाइक को गुरुवार सुबह 11 बजे एक ट्रक ने कुचल दिया। वाहन मालिक छोगालाल वास्कले निवासी भूलगांव अपने परिवार को एक निजी चिकित्स के पास उपचार के लिए लाए थे। हालांकि दोनों के बीच समझौता हुआ है।

मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned