प्रेम प्रसंग में चचेरे भाई-बहन ने पेड़ पर फंदा लगाकर की आत्महत्या

थाना क्षेत्र के बेड़दा गांव की घटना, मौके पर पहुंची पुलिस ने बनाया पंचनामा

By: vishal yadav

Published: 23 Sep 2020, 07:57 PM IST

बड़वानी/पाटी. थाना क्षेत्र के बेड़दा गांव में प्रेम प्रसंग के के चलते मंगलवार देर रात को चचेरे भाई-बहन ने पेड़ पर रस्सी का फंदा बनाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। ये दोनों बुधवार सुबह 5 बजे फंदे पर लटके दिखाई दिए। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पंचनामा बनाया है। मंगलवार को जोरदार बारिश हो रही थी। इस दौरान ये दोनों घर नहीं लौटे। रात्रि में इन दोनों को परिजनों द्वारा ढूंढा भी गया, लेकिन बारिश अधिक होने की वजह से नहीं मिल पाए। इसके बाद सुबह भी इधर-उधर ढूंढने पर ये दोनों फंदे पर झूलते हुए दिखाई दिए।
पुलिस ने मिली जानकारी के मुताबिक प्रेम प्रसंग के चलते अंबाराम पिता रादिया बारेला (17) निवासी कलमिझवर और सुशीला पिता आसाराम बारेला (16) निवासी चोगडिय़ा फलिया बेड़दा ने पेड़ पर रस्सी का फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली। ये घटना युवती के घर से 500 मीटर दूर की है। लड़की व लड़का दोनो रिश्ते में भाई बहन लगते थे। युवती के पिता आसाराम बारेला ने पुलिस को बताया कि मंगलवार शाम को सुशीला को आसपास तलाश किया, लेकिन वह कहीं नहीं मिली। शाम को बारिश के चलते व अंधेरा होने से तलाश नहीं कर पाए। वहीं सुबह घर से तलाशी के लिए निकला तो घर से 500 मीटर दूर पिपरी के पेड़ पर फांसी पर लटकी हुई थी। जिसके साथ मेरे काका लड़का भी फांसी पर लटका हुआ था। दोनों एक ही रस्सी से फांसी पर लटके थे। इसके बाद मेरे काका को ये बात बताई। आसपास के लोगों को बुलाकर पूरी घटना बताई। इसके बाद थाने पर सूचना दी। पुलिस ने दोनो मृतक के परिजनों की सूचना पर मर्ग कायम कर जांच में लिया। मौके पर एफएसएल की टीम भी पहुंची। शव का पीएम कर परिजनों के सुपूर्द किया।
पेड़ पर लिखे हुए थे दोनों के नाम
विचित्र बात ये है कि जिस पेड़ पर इन दोनों ने फांसी लगाई थी, उस पेड़ पर दोनों के नाम लिखे हुए थे। साथ ही शेरो शायरी भी लिखी हुई थी। ऐसा लग रहा था कि प्रेम प्रसंग के लिए एक पाइंट बना हो। जहां हमेशा प्रेमी जोड़े के साथ अकसर आते हो। निशानी के तौर पर पेड़ पर खुदाई कर नाम लिखते थे।

vishal yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned