Friend हो तो ऐसा... मांगी थी मन्नत दोस्त कोरोना से जीतेगा जंग तो सोमनाथ गुजरात तक करुंगा पैदल यात्रा

दोस्त को हुआ कोरोना, ठीक होने पर शिवजी का वेश धारण कर पैदल पहुंचेंगे सोमनाथ, कोरोना संक्रमित होने के बाद सुरक्षित होने की दोस्त ने मांगी थी मन्नत

By: vishal yadav

Published: 22 Jan 2021, 08:47 PM IST

खेतिया. अपने साथी के कोरोना संक्रमित होने के बाद सुरक्षित होने पर अपने साथी के लिए की गई मनोकामना के लिए खेतिया के निकट ग्राम राखी खुर्द के निवासी विक्की मोहन पटेल अपने साथियों के साथ ग्राम राखी खुर्द से सोमनाथ मंदिर गुजरात की पैदल यात्रा पर शुक्रवार को निकल पड़े। ग्रामीणों ने यात्रा के प्रारंभ में जोरदार स्वागत कर गांव से साथ-साथ प्रताप रेवजी, वीरसिंग जाधव व ग्राम के महाराज निकले है। विक्की भगवान शिव का मेकअप किया जो उनकी आस्था का प्रदर्शित कर रहा है।
पेशे से कार मैकेनिक विक्की पटेल ने बताया कि कोरोना के दौरान मेरा साथी बहुत बीमार हुआ। हम उम्मीद छोड़ चुके थे, लेकिन मेरी आस्था विश्वास था। मैंने मनोकामना की मेरा साथी अब ठीक है। उसके लिए मैं पैदल यात्रा कर सोमनाथ जाकर दर्शन पूजन करुंगा। विक्की व उसके साथी करीब 725 किमी पैदल चलकर ये यात्रा सोमनाथ मंदिर करीब डेढ़ माह में पहुंचेगी। शुक्रवार सुबह ये यात्रा नगर पहुंचे। जहां रास्ते में भातकी आदिम जाति सेवा समिति के पूर्व अध्यक्ष मोहन पटेल, राकेश निकुम, दिनेश निकुम, अनिल पाटील, बृजलाल चौधरी, कृष्णा खैरनार, सुरेश चौहान सहित कई लोगों ने स्वागत किया। खेतिया के समीप कोचरा गांव स्थित मां कोचरा माताजी के पूजन के साथ ये यात्रा आगे बढ़ गई।
फ्र्रेंड हो तो ऐसा... मांगी थी मन्नत दोस्त कोरोना से जीतेगा जंग तो सोमनाथ गुजरात तक करुंगा पैदल यात्रा
दोस्त को हुआ कोरोना, ठीक होने पर शिवजी का वेश धारण कर पैदल पहुंचेंगे सोमनाथ, कोरोना संक्रमित होने के बाद सुरक्षित होने की दोस्त ने मांगी थी मन्नत
खेतिया. अपने साथी के कोरोना संक्रमित होने के बाद सुरक्षित होने पर अपने साथी के लिए की गई मनोकामना के लिए खेतिया के निकट ग्राम राखी खुर्द के निवासी विक्की मोहन पटेल अपने साथियों के साथ ग्राम राखी खुर्द से सोमनाथ मंदिर गुजरात की पैदल यात्रा पर शुक्रवार को निकल पड़े। ग्रामीणों ने यात्रा के प्रारंभ में जोरदार स्वागत कर गांव से साथ-साथ प्रताप रेवजी, वीरसिंग जाधव व ग्राम के महाराज निकले है। विक्की भगवान शिव का मेकअप किया जो उनकी आस्था का प्रदर्शित कर रहा है।
पेशे से कार मैकेनिक विक्की पटेल ने बताया कि कोरोना के दौरान मेरा साथी बहुत बीमार हुआ। हम उम्मीद छोड़ चुके थे, लेकिन मेरी आस्था विश्वास था। मैंने मनोकामना की मेरा साथी अब ठीक है। उसके लिए मैं पैदल यात्रा कर सोमनाथ जाकर दर्शन पूजन करुंगा। विक्की व उसके साथी करीब 725 किमी पैदल चलकर ये यात्रा सोमनाथ मंदिर करीब डेढ़ माह में पहुंचेगी। शुक्रवार सुबह ये यात्रा नगर पहुंचे। जहां रास्ते में भातकी आदिम जाति सेवा समिति के पूर्व अध्यक्ष मोहन पटेल, राकेश निकुम, दिनेश निकुम, अनिल पाटील, बृजलाल चौधरी, कृष्णा खैरनार, सुरेश चौहान सहित कई लोगों ने स्वागत किया। खेतिया के समीप कोचरा गांव स्थित मां कोचरा माताजी के पूजन के साथ ये यात्रा आगे बढ़ गई।

Show More
vishal yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned