प्रेम प्रसंग के चलते युवक ने महिला आरक्षक को गोली मार खुद को किया घायल

युवक के सीने से आरपार हुई गोली, सीने पर लिखवा रखा था युवती का नाम, घायल अवस्था में दोनों को लाए जिला अस्पताल, प्राथमिक उपचार के बाद किया रैफर

By: vishal yadav

Published: 24 Nov 2020, 09:28 PM IST

बड़वानी। जिला मुख्यालय से करीब 12 किमी दूर सोंडल बाबा मंदिर के समीप एक युवक ने प्रेम प्रसंग के चलते महिला आरक्षक की गर्दल में देशी पिस्टल से गोली मार दी। युवती को गोली मारने के बाद उसने खुद के सीने में गोली मार खुद को घायल कर लिया। युवक ने पिस्टल से अपने सीने में युवती पल्ल्वी के लिखे नाम के ठीक दो इंच ऊपर गोली मारी।
ये गोली युवक के सीने से आरपार निकल गई। वहीं युवती को लगी गोली गर्दन से होते हुए उसकी रीढ़ की हड्डी में फंस गई।

घटना के बाद दोनों युवक-युवति को जिला मुख्यालय के सरकारी अस्पताल में लाए, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को रैफर कर दिया। फिलहाल दोनों की हालत में सुधार बताया जा रहा है। महिला आरक्षक को गोली लगने की सूचना मिलने पर जिले के दौरे पर आए आइजी भी उसके हाल जानने अस्पताल पहुंचे। मंगलवार सुबह हुई इस घटना में धार जिले के नर्मदा नगर निवासी युवक करण मानकर ने प्रेम प्रसंग के चलते राजगढ़ के पचोर थाना में पदस्थ महिला आरक्षक पल्लवी सोलंकी को गोली मार दी। घटना उस समय की है जब युवती अपने विवाह की पत्रिका सोंडल बाबा मंदिर में रखने आई थी। उसी दौरान युवक ने कार के सामने बाइक अड़ाकर उसे गर्दन में गोली दाग दी। युवती को गोली मारने के बाद युवक ने खुद को भी सीने में गोली मार ली। घटना के बाद मौके पर लोगों की खासी भीड़ जमा हो गई। वहीं निरसपुर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। इसके बाद इन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया।
सीने पर गुदवा रखा था युवती का नाम
जिस युवक ने महिला आरक्षक को गोली मारी उसने अपने सीने पर ुयुवती पल्लवी का नाम भी लिखवा रखा था। ग्रामीणों ने बताया कि इन दोनों का प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवक की पूर्व में शादी हो चुकी है। उसके दो बालक भी है। युवती का विवाह आने वाली 2 दिसंबर को होना था। उसी को लेकर युवक काफी परेशान था। युवक ने युवती को गोली मारी तो उसे लगा कि युवती मर चुकी है। उसके बाद उसने खुद को भी गोली मार घायल कर लिया। ग्रामीणों की मानें तो इनका प्रेम प्रसंग पूर्व में चल रहा था। युवती के आरक्षक बनने के बाद इन दोनों के बीच दूरियां बढ़ती गई। उसके बाद युवती की शादी तय हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि युवक के पिता की पहले ही मृत्यु हो चुकी है। युवक के परिवार में उसकी मां, पत्नी और दो बच्चे हैं।
युवक करता था रेत का कारोबार
जिस युवक करण ने महिला आरक्षक को गोली मारी, वह रेत का कारोबार करता था। युवक के पास रेत सप्लाय करने के लिए डंपर भी हैं। युवक का प्रेम प्रसंग तब शुरू हुआ था, जब युवती गांव में रहती थी। इसके बाद युवती पढ़ाई करने इंदौर चली गई थी। उसके बाद से ही इनके बीच दूरियां बढऩे लगी थी। युवती की नौकरी पुलिस विभाग में लगने के बाद से इन दोनों में बातचीत भी बंद हो गई थी। जब युवति का विवाह तय होने की सूचना युवक को मिली तो पिछले दो-तीन दिनों से युवक युवती का पीछा कर रहा था। मंगलवार को मौका मिलने ही उसने युवती को गोली मार खुद का जीवन समाप्त करने का प्रयास किया।
वर्जन...
जिले के निरीक्षण के लिए आए हैं। जानकारी मिली है कि ट्रेनी महिला आरक्षक को गोली मार दी है। सूचना मिलने पर महिला आरक्षक के हाल जानने पहुंचे हैं। महिला आरक्षक राजगढ़ जिले में पचोर थाने में पदस्थ है। अभी हालत में सुधार है।
-योगेश देशमुख, आइजी इंदौर

vishal yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned